जौ एक  उपयोगी अन्न है और इसका उपयोग औषधि के रूप  मे किया जा सकता है । जौ के निम्न औषधीय  गुण  है : सूजन– यदि शोध के कारण कफ दोष हो तो जौ के बारीक पिसे आटे में अंजीर का रस मिलाकर लगाना चाहिये। कंठ माला– जौ के आटे में धनिये की हरी पत्तियों का रस मिलाकर रोगी स्थान पर लगाने से कंठ माला ठीक हो जाती है। मधुमेह (डायबटीज)– छिलका रहित जौ Read More →

खांसी- 20 ग्राम गेहूं के दानों को नमक मिलाकर 250 ग्राम जल में उबाल लें और एक तिहाई मात्रा में रहने पर किंचिज गरम – गरम पीलें। ऐसा लगभग एक सप्ताह करने से खासी जाती रहेगी। अनैच्छिक वीर्य पात- रात को सोते समय, पेशाब के साथ या पेशाब करने के पश्चात् अनिच्छा से वीर्य निकलने Read More →

आजकल के बच्चे व बड़े दोनों ही फास्टफूड को काफी पसन्द करते हैं। जो शरीर के लिए काफी नुकसानदायक होता है। फास्टफूड में अत्यधिक वसा, शुगर व अन्य हानिकारक तत्व उपस्थित रहते हैं जो अनेक रोगों का कारण है। फास्ट (जंक) फूड में कोल्ड्रिंक, केक, पैटीज, बरगर, पिज्जा, चिप्स, नूडल्स, फ्राइड फूड आदि आते हैं। Read More →

स्वप्नदोष  को Wet Dream या Nocturnal Emission या Night Fall भी कहतें है | स्वप्नदोष एक स्वाभाविक प्रक्रिया है और रात में स्वप्न के दौरान वीर्यपात या वीर्यस्खलन हो जाता है | वैसे यह प्रकिया पुरुषों में अधिक होती है परन्तु यह कुछ स्त्रियों में भी पाया जाता है जिसमें उनकी योनि चिपचिपी और गीली Read More →

amaltas flower

पीले फूलों वाला अमलतास का पेड़ सड़कों के किनारे और बगीचों में प्राय: मिल जाता है | इसकी फली का गूदा विशेषरूप से उपयोगी होता है साथ ही पत्र, पुष्प और जड़ का प्रयोग भी औषधि के रूप में किया जाता है | त्वचा रोग : त्वचा रोगों में इसका गूदा ५ ग्राम इमली और Read More →