गुहेरी (stye) का घरेलू इलाज

Desi Nuskhe For Stye

इस रोग में आंख के ऊपर या नीचे की पलक के किनारे पर सूजन आ जाती है और उसमें दर्द होता है |

गुहेरी (stye) होने का कारण

गुहेरी होने का कारण यह है कि आंख की पलक के नीचे की तैलीय ग्रंथि में संक्रमण हो जाता है |

गुहेरी (stye) होने के लक्षण

आंखों में सूजन तथा पलकों पर मवाद भरे दाने निकलते हैं | कई बार एक ही पलक पर दो – दो गुहेरियां उत्पन्न हो जाती हैं | गुहेरी फूल कर फुन्सी की शक्ल ले लेती है |

गुहेरी (stye) का उपचार

हल्के गरम पानी से सेंकें

हल्के गरम सेंक से दर्द दूर होता है, गुहेरी फूट जाने से मवाद निकल जाता है | साफ कपड़े का टुकड़ा गरम पानी में डुबो और निचोड़ कर सेंक करने से भी लाभ होता है |

सुहागे की खील

सुहागे की खील के चूर्ण को पानी में मिलाकर सेकने अथवा धोने से गुहेरी ठीक हो जाती है |

इमली

इमली के बीज के गूदे को चन्दन की तरह घिसकर लगाने से भी गुहेरी फूट जाती है |

त्रिफला

त्रिफला भी नेत्र विकारों में बहुत लाभकारी है | रात में त्रिफला पानी में डालकर रख दें | सुबह इस पानी को छानकर नेत्र धोएं |

हाथ साफ रखें | गुप्तांगो को खुजाने अथवा छूने के बाद हाथ साबुन से धोकर ही आंखों या चेहरे पर लगाएं |

गुलाबजल

नेत्रों में गुलाबजल डालें | नेत्रों को दिन में कई बार शीतल जल से साफ करें |

loading...

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*