मिर्गी रोग का कारण और घरेलू इलाज

Epilepsy Treatment In Hindi Through Ayurveda

अपस्मार या मिर्गी (Epilepsy) एक तंत्रिकातंत्रीय विकार (न्यूरोलॉजिकल डिसॉर्डर) है जिसमें रोगी को बार-बार दौरे पड़ते है। मस्तिष्क में किसी गड़बड़ी के कारण बार-बार दौरे पड़ने की समस्या हो जाती है।

लक्षण व कारण

स्नायु संबंधी रोगों में मिर्गी को सबसे भयानक माना जाता है। इस रोग में प्रायः याददाश्त समाप्त हो जाती है। रोगी ऐसा महसूस करता है मानो किसी अंधेरी सुरंग में घुसता चला जा रहा है। वह जमीन पर गिर पड़ता है, हाथ-पैर तेजी से पटकता है। फिर चीखकर बेहोश हो जाता है। बेहोशी की स्थिति में रोगी की आंखें व भौहें टेढ़ी हो जाती हैं, मुंह से झाग व लार बहने लगते हैं। शरीर ऐंठ जाता है। रोगी को श्वास लेने में अत्यधिक कठिनाई होती है वह दांतों को घिसता है, चबाता है तथा दांतों से अपनी जीभ को काटता है। कुछ समय पश्चात ही रोगी होश में आता है।

उपचार

1. नीबूः चुटकी भर हींग को नीबू में मिलाकर चूसने से लाभ होगा।

2. शहतूतः प्रतिदिन 25 ग्राम शहतूत का रस पीने से मिर्गी के दौरे नहीं पड़ते।

3. सेब : सेब का रस पीना भी इस रोग में लाभदायक होता है। सेव का मुरब्बा भी रोग की तीव्रता में कमी करता है।

4. मुनक्काः प्रतिदिन मुनक्का का सेवन लाभप्रद रहता है।

5. आंवला व गाजरः गर्मियों के दिनों में प्रात:काल आंवले के मुरब्बे के साथ दूध व गाजर का रस मिलाकर पीएं तो मस्तिष्क को तो बल मिलता ही है, मिर्गी की बीमारी में भी काफी फायदा होता है।

6. लीचीः मिर्गी के रोगियों के लिए लीची का नियमित सेवन लाभकारी रहता है। इससे मस्तिष्क को शांति मिलती है।

loading...

8 Comments

  1. sir i m 22 year old.
    mujhe mirgi ki bimari h. mujhe sirf sote samay hii attack hote h. mai 4 sal pahle docter se ilaz kara rha hu ab 6 mahine se unani dava le rha hu sath me English dava bhi chal rhi h….
    Sir mujhe ye bataye mujhe kab tak dava leni hogi. mai bahar ja k padhana chahata hu lekin parents jane nii de rhe h.. mai kya karu…

  2. Doctor Kya Batavu Ab muJhe MirGi Ki ItNi Bhi Pareshani nahi lemen jab hoti hai to bahut hoti hai Our Mai ArMy Mai Select Ho gaya Hoo Ab To Bahut Darr Lag raha hai ,iska KuCh FiNal Upay Bata Do…

  3. Doctor Kya Batavu Ab muJhe MirGi Ki ItNi Bhi Pareshani nahi lekin jab hoti hai to bahut hoti hai Our Mai ArMy Mai Select Ho gaya Hoo Ab To Bahut Darr Lag raha hai ,iska KuCh FiNal Upay Bata Do…

  4. सर मेरे बच्चे को मिर्गी की बिमारी उस यह बिमारी 6 महीने की उम् से है अभी उसकी उम् 9 साल की है काभी जगह पर ईलाज कराया कोई फरक नही है हमे ईसका ईलाज बताऐ

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*