चाय है सेहत का खजाना Health Benefits For Drinking Tea In Hindi

health benefits for drinking herbal tea

चाय है सेहत का खजाना Health Benefits For Drinking Tea In Hindi – Chai Pene Ke Fayde :- समस्या चाहे जो हो एक कप चाय सब कुछ ठीक कर सकती है | हालांकि हम लंबे समय से एक आम चाय की जादुई खूबियों के बारे में जानते हैं, लेकिन विशेषज्ञों ने हमारे चाय के प्याले में कुछ विशेष अर्क मिलाकर इसे और भी खास बना दिया है |

एक कप चाय के साथ दिन की शुरुआत करने से बेहतर और कुछ नहीं हो सकता | इस दुनिया में पानी के बाद सबसे लोकप्रिय पेय पदार्थ चाय ही है और कुछ शोधकर्ताओं (Researchers) का मानना है कि पानी से ज्यादा चाय से ऊर्जा मिलती है | यदि आप अपनी सेहत में सुधार लाना चाहते हैं या वजन घटाना चाहते हैं तो सुपर फूड्स (Super Foods) और सप्लीमेंट्स (Supplements) का सेवन करने के बजाए चाय के बारे में आप सोच सकते हैं | क्योंकि चाय एक सुपर ड्रिंक (Super Drink) है और हजारों मिश्रणों में उपलब्ध है | यहां हम चाय और उसके हर्बल मिश्रण से होने वाले विभिन्न फायदों के बारे में बता रहे हैं, जिससे आप अपनी सेहत का प्याला घर पर तैयार कर सकें |

1. यदि आप मूड है बहुत हरा भरा

ऐसे मूड के लिए चाय का सुझाव : आपको चाहिए स्मिन कैमोमाइल (Camomile Tea), पिपरमिंट (Peppermint Tea) मेथी के दाने, डैडिलायन (सिंहपर्णी) Dandelion Tea, क्रैनबेर्री (Cranberry Tea)

यदि आप सोच रहे हैं कि कई होटल में खाने के समय जैस्मिन टी क्यों परोसते हैं तो इसका कारण है कि यह हर्बल टी पेट को आराम, लीवर को पोषण पहुंचा सकती है | इसके अलावा यह लार (जो पाचन में मदद करता है) बनाने में मदद करती है और प्यास बुझाती है |

कैमोमाइल (Camomile Tea) से पाचन प्रणाली को आराम पहुंचता है | यह मांसपेशियों को आराम पहुंचाता है | यह गैस्ट्रो इंटेस्टाइनल ट्रैक्ट (Gastro Intestinal Tract) के तनाव और पीरियड्स के दौरान होने वाली ऐंठन  को भी कम करता है | इसके अलावा भारी भोजन के बाद कैमोमाइल (Camomile Tea)  और पिपरमिंट टी (Peppermint Tea)  अच्छी साबित हो सकती हैं |

पिपरमिंट टी (Peppermint Tea)  सूजन और गैस की तकलीफ को कम करती है और आपचन को ठीक करने में मदद करती है | सौफ और डैडिलायन (Dandelion)  के सममिश्रण वाली चाय पाचन करने वाले एंजाइम के श्राव को बढ़ाकर पाचन में मदद करती है | क्रेनबेरी टी खराब चल रहे पेट को ठीक कर सकती है, क्योंकि यह यूरिक एसिड को कम करती है |

2. यदि आप दर्द या पीड़ा महसूस कर रही हैं

ऐसे मूड के लिए चाय का सुझाव – आपको चाहिए ग्रीन टी, रोइबस, रेडबुश, कैमोमाइल (Camomile Tea)

आप के दर्द को कम करने के लिए ग्रीन टी से बेहतर कुछ हो ही नहीं सकता है | इसके लिए इसके उच्च एंटीआक्सीडेंट (Antioxident) का शुक्रिया अदा करना चाहिए | ग्रीन टी में मिनरल्स की मात्रा बहुत अधिक होती है | हाई विटामिन और मिनरल की वजह से यह सूजन पर बहुत बढ़िया काम करती है | यदि आपको भारत में मिल सके तो रोईबस या रेडबुश बेहद उम्दा अर्क साबित हो सकते हैं | कैमोमाइल टी (Camomile Tea)  डार्क सर्किल, सूजन और रूखी त्वचा को ठीक करने में मदद करती है |

3. यदि आप चमक-दमक में कमी महसूस कर रही हैं

ऐसे मूड के लिए चाय का सुझाव – आपको चाहिए कैलेंडुला (CalendulaTea), कैमोमाइल टी (Camomile Tea) , ग्रीन टी, White टी, लिकरिस (मुलेठी)

ऊपरी तौर पर त्वचा की समस्या का हल निकालने के बजाय चाय की मदद से समस्या को जड़ से सुलझाएं | यह शरीर से टॉक्सिन को निकालने और त्वचा को नैसर्गिक रूप से साफ करने में मदद करती है | कैलेंडुला (Calendula Tea) एक बढ़िया हर्बल टी है जो त्वचा को भीतर से बाहर तक साफ करती है | इसे क्षति की भरपाई करने वाला हर्ब माना जाता है और यह लिम्फटिक सिस्टम (टिश्यूज का जाल जो शरीर से टॉक्सिन निकालने में मदद करता है) पर भी काम करती है और पाचन को बढ़ाती है | ठीक से पाचन ना होने से लीवर में टॉक्सिन का जमाव हो जाता है | कैलेंडुला (CalendulaTea) शरीर को सेहतमंद तरीके से Detoxify करने में मददगार साबित हो सकती है | एंटीऑक्सीडेंट्स (Antioxidant) और इम्यूनिटी (Immunity) बढ़ाने के अपने गुणों की वजह से डंडीलाइन टी त्वचा के लिए बहुत अच्छी होती है | कैमोमाइल टी (Camomile Tea)  प्राकृतिक ब्लीच भी है और अक्सर इसका इस्तेमाल फेशियल स्क्रब्स में किया जाता है | यह स्वाभाविक चमक-दमक प्रदान करती है | यह मुहांसों के दाग धब्बों को भी मिटाती है और ड्राई स्किन व एग्जिमा में भी लाभकारी होती है | ग्रीन टी के एंटीऑक्सीडेंट्स (Antioxidant) एंटी एजिंग एजेंट (Anit-Ageing Agent) की तरह काम करते हैं जबकि White Tea, लिकरिस टी और रोबार्ब टी पिगमेंटेशन से बचाती हैं और त्वचा को आराम पहुंचाती हैं |

4. यदि आप महसूस कर रही हैं फिर से बीमार

ऐसे मूड के लिए चाय का सुझाव – आपको चाहिए जिनसेंग एक औषधीय पौधे की जड़

जिनसेंग को सर्वाधिक पोषण देने वाले हर्बल सप्लीमेंट्स में से एक माना जाता है | यह याददाश्त, एकाग्रता और ऊर्जा को बढ़ाती है | जिनसेंग से ताजगी भरा एहसास होता है | यह प्रतिरोधक क्षमता को प्रोत्साहित करने, थकान और मानसिक चिन्ताओं को कम करने, सांस लेने सम्बन्धी समस्याओं, आर्थराइटिस, और सेक्सुअल समस्याओं से निपटने में सहायता करती है | कई सूत्रों से पता चला है कि नियमित रूप से जिनसेंग चाय पीने से कैंसर का खतरा कम हो जाता है | यह गंभीर बीमारियों के प्रभाव को कम करती है और टेम्परोमैन्द्युलर जॉइंट  (TMJ) सिंड्रोम के खिलाफ असरदार है और LDL यानि खराब कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करती है |

5. आप महसूस कर रही हैं – मिचली

ऐसे मूड के लिए चाय का सुझाव – आपको चाहिए पिपरमिंट (Peppermint Tea) , जिंजर, रस्पबेरी

तुरंत आपको ताजगी का अहसास देता है | इसलिए यह सांसो को ताजा रखने वाले मिन्ट्स और चिंगम में काफी लोकप्रिय है | पिपरमिंट एन्टीएमेटिक (Antiemetic) यानी उल्टी रोकने वाला है और गाल ब्लैडर में पित्त बनाने की प्रक्रिया को बढ़ाता है |  जिससे पाचन प्रक्रिया में चर्बी नष्ट होती है और नतीजतन उल्टी और जी मिचलाने जैसी समस्याएं रुक जाती हैं | कई लोगों को इसका स्वाद काफी तेज लगता है, लेकिन इसे आप हल्का भी बना सकते हैं | यह ताजगी भरा होता है | अदरक वाली चाय आमतौर पर ताजा अदरक के कुछ टुकड़ों को पानी में 2 मिनट के लिए उबाल कर बनाई जाती है | अदरक शरीर की अकड़न में आराम पहुंचाता है और मिचली को कम करने में कारगर है | गरम शुद्ध या मिश्रित अदरक वाली चाय बीमारी में आराम पहुंचाती है | यात्रा करते समय जिनका जी मिचलाता है या गर्भवती महिलाएं जो सुबह-सुबह की मिचली से परेशान हैं उनके लिए जिंजर टी बैग एक अच्छा विकल्प है | मां बनने वाली महिलाओं के लिए रस्पबेरी लीफ़ टी को गर्भाशय का टानिक माना जाता है |

6. यदि आप महसूस कर रहे हैं चिंतित और उनींदा

ऐसे मूड के लिए चाय का सुझाव – आपको चाहिए कैमोमाइल टी (Camomile Tea) , पैशन फ्रूट, लेमनग्रास, मिंट

सौम्यता और शीतलता प्रदान करने वाली यह चाय सूखे फूलों कैमोमाइल से बनी होती है और यह इनसोम्निया से लड़ने में मदद करती है | विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर पैशन फ्रूट टी एक ताजगी भरा विकल्प हो सकती है | शांतिदायक और एंटी-एपस्मैस्मादिक (मरोड़ कम करने वाली) यह चाय तनाव इनसोमनिया और बेचैनी को कम करती है | ऐसे ही लेमन ग्रास टी स्फूर्तिदायक होती है और थकान व बेचैनी को कम करने में मदद करती है | यह विटामिन ए और सी और एंटीऑक्सीडेंट्स (Antioxidant) का अच्छा स्रोत होती है | लेमनग्रास टी बैक्टीरिया के विकास को धीमा करती है | लेमन बाम या मिंट आपके उत्साह को बढ़ाने में मदद करते हैं | सर्दियों में ठंड को कम करने और एकाग्रता को सुधारने में यह काफी मददगार साबित हो सकती है | अध्ययनों से पता चलता है कि मिंट या लेमन बाम टी बच्चों के लिए सुरक्षित है और सोने से पहले पीने पर यह उन्हें बुरे सपनों से बचा सकती है | मिंट आइस्ड टी को और भी ज्यादा ताजगी भरा बनाता है |

7. आप महसूस कर रहे हैं भारी और सुस्त

ऐसे मूड के लिए चाय का सुझाव – आपको चाहिए ब्लैक, ग्रीन, वाइट, उलांग, कैलेंडुला (Calendula Tea), रोस्टेड डांडीलाइन, नेटल, लेमन बाम, लिकरिस रूट,

ब्लैक, ग्रीन, वाइट और उलंग इन सभी चारों में प्रचुर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स (Antioxidant) होते हैं, जो इन्हें सेहत सामान्य सेहत और तंदुरुस्त बनाए रखने के लिए उपयुक्त बनाते हैं | जब Detoxify करने वाले हर्बल मिश्रण की बात हो तो कैलेंडुला (Calendula Tea) रोस्टेड डांडीलायन और नेटल डाई युरेटिक (मूत्रवर्धक) प्रभाव रखता है, जिससे हमारे शरीर के टॉक्सिंस को बाहर निकालने में किडनी को मदद मिलती है | लेमन बाम टी नर्वस सिस्टम के लिए शानदार है और लिकरिस रूट ऊर्जा का निरंतर संचार करती है | कई वैज्ञानिक अध्ययन बताते हैं की ग्रीन टी वजन घटाने में भी मदद करती है | कुछ हद तक उसमें मौजूद कैफीन के कारण और कुछ उसके एंटीऑक्सीडेंट्स (Antioxidant) की वजह से जिसमें थर्मोजेनीक प्रभाव होता है | यह चयापचय की दर को बढ़ाती है, जिससे आप की जमा चर्बी को नष्ट कर सकते हैं | यहाँ तक की उलांग टी भी कुछ किलो वजन घटाने में आपकी मदद कर सकती है | यह खाने के समय फैट को नष्ट करने में बढ़ोतरी करती है |

8. आप महसूस कर रही हैं सर्दी, खांसी, सुस्ती

ऐसे मूड के लिए चाय का सुझाव – आपको चाहिए वाइट ब्लासम, जिंजर, थाईम

पुराने पेड़ का वाइट ब्लासम सर्दी को ठीक करने का पारंपरिक तरीका है | जुकाम को निकालने में मदद करने वाली यह असरदार दवा है | सर्दी के शुरूआती चरण में गरम मसाले अदरक बेहद अच्छे इलाज हैं और इस गर्म चाय को पीने से जल्दी आराम मिल सकता है | मेडिटेरियन हर्ब  थाईम भी सर्दी जुकाम का प्रभावशाली इलाज है, क्योंकि थाईम के पौधे में वाष्पशील तेल के घटक शामिल होते हैं, जो वायरस और संक्रमण से सुरक्षा करते हैं | जब इनके अर्क का इस्तेमाल किया जाता है तो इनका यह गुण सर्दी से निजात दिलाने में सहायक होता है |

loading...

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*