हैजा (Cholera) का घरेलू उपचार

Home Remedies for Cholera

हैजा (Cholera) का कारण व लक्षण

हैजा एक भयंकर संक्रामक रोग है जो बहुधा महामारी के रूप में फैलता है। यह महामारी सामान्यतया गर्मी के मौसम के अंत में या वर्षा ऋतु के पहले फैलती है। यदि इस रोग का समय पर इलाज न किया जाए तो यह रोग बेहद घातक सिद्ध होता है। इस रोग को मक्खियां फैलाती हैं। रोग की प्रारंभिक दशा में रोगी को तेज उल्टियां व अतिसार होता है तथा धीरे-धीरे बुखार हो जाता है जो तेजी से बढ़ता है। रोगी के पेट और अंतड़ियों में तीव्र ऐंठन व बेचैनी होती है। प्यास ज्यादा लगती है व पसीना भी अधिक आता है।

हैजा (Cholera) का उपचार

1. नीबूः रोगी को गर्म पानी में नमक व नीबू मिलाकर पिलाएं यह पानी पिलाने के बाद संभव है रोगी को उल्टी हो जाए, पर घबराएं नहीं। रोगी को पुन: यह पानी पिलाएं। इसके बाद फिर उल्टी हो जाए तो पुन: पानी पिलाएं कहने का अर्थ यह है कि रोगी को जब तक यह नीबू पानी पीने से उल्टी होती रहे, तब तक उसे यह पानी पिलाते रहें। इससे रोगी के पेट की सफाई होगी व आराम मिलेगा। प्रतिदिन नीबू के सेवन से हैजे का प्रकोप कप होता है। नीबू को काटकर गर्म कर लें तथा उसमें चीनी लगाकर चूसें। इससे रोगी को फायदा होगा। प्याज के रस व नीबू के रस में चीनी मिलाकर उसकी शिकंजी बनाकर रोगी को पिलाएं | नीबू का रस एक भाग, हरा पुदीना व प्याज का रस आधा-आधा भाग मिलाकर रोगी को पिलाएं। हैजा होने पर प्रतिदिन नीबू का अचार रोगी को खिलाएं। इससे रोग का संक्रमण कम हो जाता है। हैजा फैलने पर भी प्रतिदिन नीबू के अचार का सेवन करना चाहिए।

2. नारियलः रोगी को नारियल का पानी पिलाने से काफी राहत मिलती है। हैजा होने पर रोगी को उल्टियां हो रही हों तो नारियल का पानी पिलाने से बंद हो जाती हैं। यदि नारियल के पानी में 2-3 बूंद नीबू के रस की भी डाल दी जाएं तो शीघ्र लाभ होगा। इस घोल को पीने से रोगी के शरीर में तरल तत्त्वों की कमी की पूर्ति हो जाती है। शरीर में जल की कमी होने पर नारियल का पानी रोगी को थोड़ी-थोड़ी देर में पिलाते रहें। जायफलः ठंडे पानी में जायफल घिसकर पिलाने से रोगी की प्यास बुझ जाती है।

3. आमः आम के 25 ग्राम ताजा-नर्म पत्तों को बारीक पीस ले तथा इस लुगदी को एक गिलास पानी में उबालकर, छानकर रोगी को दिन में दो बार पिलाएं |

4. अदरकः रोगी को थोड़ी-थोड़ी देर में अदरक का रस पिलाते रहें। इससे उसे आराम मिलेगा।

loading...

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*