बच्चों में अतिसार के कारण व घरेलू उपचार

Home Remedies For Diarrhea For Kids In Hindi

कारण

बच्चों को दूषित पानी पीने, संक्रमित भोजन के सेवन आदि कारणों से अतिसार हो जाता है। कई बार किसी गरिष्ठ भोजन के सेवन से भी अतिसार हो जाता है। अतिसार होते ही उचित उपाय शुरू कर देने चाहिए ताकि स्थिति बिगडे नहीं।

उपचार

1. जामुनः जामुन का ताजा रस बकरी के दूध में मिलाकर पिलाने से अतिसार बहुत जल्दी ठीक हो जाता है।

2. जायफलः जायफल के चूर्ण को शुद्ध घी में मिलाकर बच्चे को चाटने के लिए दें। चाहें तो स्वाद के लिए इसमें कुछ मात्रा में शक्कर भी मिला दें, इससे काफी लाभ होगा। सोंठ, जायफल, बेलगिरी और अतीस का चूर्ण बनाकर दो-दो रत्ती दिन में तीन बार पानी के साथ बच्चे को दें। इससे अतिसार में काफी लाभ होता है।

3. नारंगीः नारंगी के रस में दूध मिलाकर पिलाने से अतिसार ठीक हो जाता है व उसके पाचन तंत्र को बल मिलता है।

4. सेवः दूध नहीं पचता, दूध पीते ही दस्त आना शुरू हो जाते हैं तो दूध बंद करके थोड़े-थोड़े समय के बाद सेव का रस पिलाने से इन दस्तों में आराम मिलता है| सेव का मुरब्बा व बिना छिलकों के सेव बच्चों को खिलाने से अतिसार में लाभ होता है। सेव के छिलके उतारकर उनके छोटे-छोटे टुकड़े करके दूध में उबाल लें। इस दूध का अध कप प्रति घंटा पिलाने से अतिसार में काफी लाभ होता है|

5. बेलः पांच ग्राम पके हुए बेल की गिरी का चूर्ण सौंफ के अर्क में घोलकर बच्चों को पिलाने से काफी लाभ होता है।

loading...

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*