काली खांसी (कुक्कुर खाँसी) का घरेलू उपचार

Home remedies for whooping cough

कूकर कास या कूकर खाँसी या काली खाँसी (अंग्रेज़ी:पर्टसिस, व्हूपिंग कफ़) जीवाणु का संक्रमण होता है जो कि आरंभ में नाक और गला को प्रभावित करता है।

काली खाँसी का कारण व लक्षण

कुक्कुर खाँसी या काली खाँसी को सामान्य खाँसी से ज्यादा घातक माना जाता है। इस प्रकार की खांसी दौरे के समान पैदा होती है व रोगी खांसते-खांसते बेहाल हो जाता है। कई बार इस प्रकार की खांसी में रोगी को कफ के साथ खून भी आ जाता है। इसमें रोगी के स्वर तंतु सिकुड़ जाते हैं व सीने में तेज जलन होने लगती है।

Home remedies for whooping cough

काली खांसी का उपचार

1. अमरूदः अमरूद को गर्म रेत या राख में सेक कर खाने से कूकर खांसी में काफी लाभ होता है। इससे जमा हुआ कफ भी निकल जाता है।

2. अदरकः अदरक के एक चम्मच रस में मेथी का एक कप काढ़ा बनाकर शहद मिलाकर पीने से कूकर खांसी ठीक हो जाती है।

3. नारियलः बिना किसी सुगंध की मिलावट वाले शुद्ध नारियल तेल की 4-4 ग्राम मात्रा दिन में चार बार पिलाने से लाभ होता है।

4. गन्नाः एक गिलास गन्ने का रस प्रतिदिन दो बार पीने से कूकर खांसी में काफी लाभ होता है तथा कफ की समस्या भी समाप्त हो जाती है।

loading...

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*