अरबी, घुईया के 7 औषधीय गुण Arbi Ke Fayde Hindi Me

अरबी, घुईया के 7 औषधीय गुण Arbi Ke Fayde Hindi Me

अरबी, घुईया के 7 औषधीय गुण Arbi Ke Fayde Hindi Me – अरबी जमीन के नीचे पैदा होती है. इसका ज्यादातर प्रयोग सब्जी के रूप में किया जाता है. अरबी खाने से कई बीमारियां भी हो सकती है. इसलिए अरबी खाने के फायदे के साथ – साथ नुक्सान भी हैं.

यहाँ पर हम अरबी के 7 औषधीय फायदे (Arbi Ke Fayde) के बारे में बात करेगे.

जल जाने पर अरबी का फायदा – घरों में लोग अकसर आग से जल जाते हैं. यदि कोई जल गया हो तो जले हुए स्थान पर अरबी पीसकर लगाने से फेफोले नही पड़ते और जलन भी समाप्त हो जाती है।

सूखी खाँसी ठीक होती है – अरबी खाने से खाँसी में भे अच्छा खासा फायदा मिलता है. यदि सूखी खांसी है तो इसमें अरबी की सब्जी खाने से कफ पतला होकर बाहर निकल जाता है।

हृदय रोग में फायदा – बड़ी इलायची, काली मिर्च, काला जीरा, अदरक आदि से तैयार अरबी की सब्जी कुछ दिनों तक नियमित सेवन करने रहने से ह्रदय की दुर्बलता, रक्ताल्पाता (खून की कमी) व अन्य हृदय रोग जाते रहते है।

बर्र या ततैया का काटना – यदि किसी को बर्र काट ले तो दंशित स्थान पर अरबी काटकर तथा घिसकर लगा देनी चाहिए। इससे विष कम हो जायेगा और सुजन भी कम हो जायेगी।

वायु का गोला – अरबी के पौधे के डन्ठल को पत्तों सहित वाष्प (भाप) पर उबालकर निचोंड लें और उसमें ताजा घी मिला 3-4 दिन तक पिलाते रहने से वात गुल्म में लाभ होता है।

गंजापन के लाभ (Ganjapan Ka Gharelu Upchar) – गंजापन के इलाज में अरबी बहुत फायदेमंद होती है. अरबी (घुईया काली) के रस का कुछ दिनों तक नियमित सिर पर मर्दन करने से केशों का गिरना रूक जाता है। तथा नयें केश भी उग आतें है।

रक्तार्श (खूनी बवासीर) – खूनी बवासीर की स्थिति में अरबी का रस कुछ दिनों तक पिलाना हितकर रहता है।

loading...

3 Comments

  1. बहुत ही जरुरी जानकारी देने के लिए धन्यबाद।।।
    जय माता रानी…
    ॐ नमः शिवाय…

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*