चेहरे की नसों में दर्द का इलाज

Trigeminal Neuralgia Treatment In Hindi.

Trigeminal Neuralgia Treatment In Hindi.यह एक न्यूरोपैथिक (नर्वस सिस्टम या तंत्रिका तंत्र से संबंधित) विकार है, जिसमें मरीज के चेहरे पर बहुत पीड़ा होती है । यह दर्द ट्राइजेमिनल नामक तंत्रिका(नर्व) से पैदा होता है । यह तंत्रिका चेहरे पर संवेदना और जबड़ों की गतिविधि जैसे काटना और चबाना आदि के लिए उत्तरदायी होती है।

लक्षण

1. मरीज को चेहरे पर बहुत तीव्र दर्द होता है | यह दर्द जो कुछ सेकंड से लेकर कई मिनटों या घंटों तक भी रह सकता है ।

2. मरीज के कानों में दर्द हो सकता है ।

3. आंखों और होंठों पर दर्द ।

4. नाक, सिर, माथा, गालों, दांतों या जबड़ों में दर्द होना ।

इसका पता लगाने का उपाय

अक्सर लोग बहुत लंबे समय तक परेशानी झेलने को मजबूर होते हैं, क्योंकि इस रोग की सही पहचान नहीं हो पाती | अक्सर इसे माइग्रेन या दांतों की परेशानी समझ लिया जाता है । इसलिए रोग की सही जांच बहुत जरूरी है ।

इलाज के विकल्प (option)

ट्राइजेमिनल न्यूरेल्जिया आसानी से काबू में नहीं आता, किंतु इलाज के कुछ विकल्पों के द्वारा इसे मैनेज किया जा सकता है । ग्लाइसेरॉल इंजेक्शन, रेडियो फ्रीक्वेंसी आदि से इसका इलाज किया जा सकता है, परंतु इससे तंत्रिकाएं (नर्व्स) क्षतिग्रस्त हो जाती हैं |

सर्जरी है सही इलाज

सर्वश्रेष्ठ विकल्प सर्जरी है | ऐसा इसलिए, क्योंकि यह तंत्रिकाओं (नर्व्स) की संरचना को सुरक्षित व संरक्षित रखती है। यदि पीड़ित व्यक्ति की सर्जरी कर दी जाय, तो सफलता की दर 90 प्रतिशत है | वहीं अगर मरीज अन्य उपचार कराने के बाद सर्जरी के लिए आता है, तो सफलता की दर घटकर 50 से 60 प्रतिशत पर आ जाती है, क्योंकि उसकी तंत्रिकाएं अन्य इलाजों की वजह से पहले से ही क्षतिग्रस्त हो चुकी होती हैं |

loading...

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*