शिशु की त्वचा को रूखेपन से कैसे बचाएं Baby Dry Skin Care Tips In Hindi

Baby Dry Skin Care For Kids In Hindi शिशु की त्वचा को रूखेपन से कैसे बचाएं

शिशु की त्वचा को रूखेपन से कैसे बचाएं Baby Dry Skin Care Tips In Hindi

शिशु की त्वचा बहुत अधिक संवेदनशील होती है | इस कारण उस की त्वचा पर मौसम का असर भी सर्वाधिक होता है, जिस से शिशु की त्वचा बहुत अधिक रूखी व बेजान हो जाती है |

  • त्वचा को रूखेपन से बचाने के लिए उस की त्वचा पर बेबी मोइश्चराइजर लगाएं |
  • शिशु को नहलाने के तुरंत बाद ठंडी हवा में न ले जाएं, क्योंकि ऐसा करने से त्वचा अधिक रूखी होगी |
  • मोइश्चराइजर लगाते समय ध्यान रखें कि वह शिशु की आंखों या मुंह में न जाए | आप चाहें तो चिकित्सक की सलाह से शिशु की त्वचा के लिए उपयुक्त मोइश्चराइजर का चयन कर सकती हैं |

स्नान बनाए शिशु को स्वस्थ और खुशहाल Bathing Makes Baby Healthy And Happy

शिशु के लिए स्वच्छता से जुड़ा स्वास्थ्य

  • नवजात शिशु का शरीर बहुत अधिक संवेदनशील होता है | उसे बीमारियों से बचाने के लिए हाथ धोने के बाद ही छुएं |
  • नवजात शिशु को चूमने से परहेज करें |
  • सिक्का, नोट या चाबी शिशु के हाथ में न थमाएं, क्योंकि शिशु किसी भी चीज को तुरंत मुंह में डाल लेता है और इस तरह कई बीमारियों के कीटाणु उस के शरीर में प्रवेश कर जाते हैं | शिशु के कक्ष में मच्छर भगाने वाली अगरबत्ती न जलाएं |

डायपर रेशैज से कैसे बचाएं बब्चे को 

  • शिशु की नैपी गीली या गंदी होने पर तुरंत बदल डालें | शिशु को डिस्पोजेबल डायपर के बजाय मुलायम कपड़े की नैपी पहनाएं |
  • शिशु के मलमूत्र करने पर उस के निचले हिस्से को पानी से धोएं, लेकिन वहां साबुन न लगाएं |
  • शिशु की त्वचा के पूरी तरह सूखने के बाद ही उसे दूसरा डायपर पहनाएं |

बच्चों के तुतलाने व हकलाने का घरेलू उपचार Haklana Tutlana Ka Ilaj

शिशु के लिए आयरन की जरुरी मात्रा

शिशु के शरीर के विकास के लिए आयरन बहुत जरूरी होता है, क्योंकि यह पूरे शरीर में आक्सीजन पहुंचाता है | इस की कमी के कारण बच्चों को एनीमिया हो सकता है | उम्र के अनुसार बच्चों के शरीर को आयरन की आवश्यकता होती है, लेकिन यह आवश्यकता हमेशा एक सी नहीं होती | उदाहरण के लिए बच्चों को आयरन की आवश्यकता 6 माह से 7 वर्ष तक की उम्र में सर्वाधिक होती है |

आइए, जानते हैं कि उम्र बढ़ने के साथसाथ बच्चे को कितने मिलीग्राम आयरन की आवश्यकता होती है:

1. एक स्वस्थ मां के स्वस्थ नवजात शिशु के शरीर में इतना आयरन होता है कि मां के दूध से ही उस की 4 से 6 माह तक की आयरन की जरूरत पूरी हो जाती है | जहां 7 से 12 माह तक के शिशु को प्रतिदिन 11 मिलीग्राम आयरन की आवश्यकता होती है वहीं 1 से 3 वर्ष तक के शिशु के लिए प्रतिदिन 7 मिलीग्राम आयरन आवश्यक होता है |

2. जब बच्चा 4 से 8 वर्ष तक का होता है तब उस के शरीर को 10 मिलीग्राम आयरन की प्रतिदिन आवश्यकता होती है और जब वह 9 से 13 वर्ष का हो जाता है तब यही जरूरत 8 मिलीग्राम प्रतिदिन हो जाती है |

3. किशोरावस्था में लड़कियों को लड़कों की अपेक्षा आयरन की अधिक आवश्यकता होती है | जहां किशोरावस्था में लड़के के शरीर को 11 मिलीग्राम आयरन प्रतिदिनं की आवश्यकता होती है, वहीं किशोरावस्था में लड़की को 15 मिलीग्राम प्रतिदिन आयरन की आवश्यकता होती है |

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*