बालों और त्वचा को खूबसूरत बनाने में मददगार होता है नीम के पाउडर, इसके फायदे जान चौंक जाएंगे आप भी

प्राचीन काल से ही नीम को औषधीय गुणों से भरपूर माना गया है। नीम को लेकर एक पूरानी कहावत भी है कि ‘नीम का खाया और बड़ों का सिखाया’ शुरू में कड़वा लगता है बाद में मीठा |

जी हां, नीम को लेकर ऐसा इसलिए कहा जाता है क्योंकि नीम का स्वाद बहुत ही कड़वा होता है, लेकिन स्वास्थ्य हो या सेहत हर प्रकार से हमारे लिए बहुत ही उपयोगी साबित होता है। नीम के पत्ते हो, छाल हो, या बीज नीम के पेड़ की हर चीजों हमारे लिए बहुत ही फायदेमंद होती है। यही नहीं पर्यावरण के लिए भी नीम बहुत अच्छा माना जाता है।

कहा जाता है कि नीम की पत्तियां वातावरण को स्वच्छ रखने में मदद करती हैं। इसलिए नीम का सेवन हमें जरूर करना चाहिए। नीम का स्वाद कड़वा होता है, इसलिए लोग सीधे नीम को खाने या उसके प्रयोग से कतराते हैं.

अगर आप भी सीधे नीम का इस्तेमाल नहीं करना चाहते, तो नीम के पाउडर का इस्तेमाल करें। हालांकि ये भी स्वाद में कड़वा होता है, लेकिन नीम के पाउडर का इस्तेमाल करना थोड़ा सरल हो जाता है।

कई ऐसे उपचार हैं, जहां नीम के पाउडर का इस्तेमाल ज्यादा कारगर साबित होता है। तो आज हम आपको नीम के पाउडर के बारे में बताएंगे, कि इसके क्या फायदे हैं। तो आइए जानते हैं नीम के पाउडर के फायदे।

दांतों की समस्या में कारगर   Effective in tooth problems

ये तो हम सब जानते ही हैं कि नीम दांतों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। आपने भी कभी ना कभी तो नीम के दातुन से ब्रश बी जरूर किया होगा। बड़े- बुजुर्ग भी यही कहते हैं कि नीम हमारे दांतों के लिए काफी अच्छा होता है। दांतों की आम समस्याओ जैसे पायरिया, दांतों का कीड़ा आदि को दूर करने के लिए ब्रश करने के बाद नीम के पत्तों का पेस्ट या पाउडर दांतों पर लगाये, सोने से पहले रोजाना ऐसा करने से दांतों में कभी कीड़ा नहीं लगेगा |

[इसे भी पढ़ें – नीम के दातुन के फायदे]

पेट में कीड़े से निजात Pet mein keede se nijaat

ज्यादा मीठा खाने की वजह से अक्सर बच्चों के पेट में कीड़े की समस्या पैदा हो जाती है। इससे बच्चों में खाने की इच्छा भी मर जाती है, साथ ही उनका वजन भी तेजी से घटने लगता है। ऐसी समस्याओं से निपटने के लिए नीम का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद होता है। पेट में कीड़े हो जाएं,  भूख ना लगे, वजन कम हो जाए, पेट में दर्द हो, तो एक ग्राम नीम के पत्तों का पाउडर गुड़ के साथ लें। पेट के कीड़ों से भी मुक्ति मिलेगी।

 

[इसे भी पढ़ें – पेट के कीड़े का घरेलू इलाज]

डायबिटीज में उपयोगी Useful in diabetes

शुगर की बिमारी तो आजकल आम बात हो गई है। हर तीसरे इंसान को शुगर की बिमारी हो ही जाती है। आजकल क्या बच्चे और क्या बूढ़े हर कोई इस बिमारी से ग्रसित है।

डायबिटीज में नीम बहुत फायदेमंद होता है, ये तो लोग जानते ही हैं, लेकिन अगर इस तरह नीम का इस्तेमाल किया जाए तो फायदा जरूर देखने को मिलेगा। मधुमेह के रोगी को एक बड़ा चम्मच नीम के पतों का रस खाली पेट सुबह सवेरे तीन माह तक लेना चाहिए।

नीम के दस बारह पत्तो को चबाने से या पाउडर के सेवन करने से भी फायदा होता है। यह उपाय सेहत के लिए अति लाभदायक है | इस उपाय को करने से उनके शरीर में इंसुलिन पैदा करने वाली क्रिया तेज हो जाती है |

[इसे भी पढ़ें – मधुमेह या डायबिटीज का घरेलू इलाज]

स्किन प्रॉब्लम में फायदेमंद Beneficial in skin problems In Hindi

त्वचा के लिए भी नीम बहुत लाभकारी होता है। चेहरे से दाग- धब्बे हटाने हो, या फेस को चमकदार बनाना हो। सभी चीजों में नीम बहुत उपयोगी होता है। नीम के मास्क को चेहरे पर लगाने से आकर्षक त्वचा पाई जा सकती है। नीम पाउडर और गुलाबजल को मिलाकर चेहरे पर लगाने से चेहरे के दाग- धब्बे मिट जाते हैं।

इस मास्क में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं। इसके लिए मुट्ठी भर नीम के पत्तों को लेकर पाउडर बना लें। इस पाउडर में गुलाबजल मिलाकर पेस्ट बना लें। अब इसे चेहरे और गर्दन पर लगा लें।

[इसे भी पढ़ें – स्किन को ऑयली होने से कैसे बचाएं ]

सिरदर्द से पायें राहत Headache or Sir Dard Se Paaye Chhutkaara

सिरदर्द होना एक बिमारी है। सिर में दर्द किसी भी वजह से कभी भी हो सकता है। तो वहीं कई लोगों को माइग्रेन की समस्या होती है, जिसमें सिर दर्द बहुत ज्यादा होता है। ऐसे में आप नीम के बीज का पाउडर इस्तेमाल कर सकते हैं। नीम के बीजों का पाउडर अगर माथे पर हल्के से रगड़ा जाए तो सिरदर्द गायब हो जाता है।

[इसे भी पढ़ें – सिरदर्द का घरेलू इलाज Gharelu Nuskhe For Headache]

डैन्ड्रफ की समस्या का निदान Dandruff ki samasya ka nidaan

प्रदूषित वातावरण की वजह से डैन्ड्रफ की प्रॉब्लम आजकल ज्यादातर लोगों को हो गई है। इसकी वजह से बाल झड़ने भी शुरू हो जाते हैं। इसमें नीम का प्रयोग करना बहुत फायदेमंद होता है। इसके लिए नीम के पाउडर में थोड़ा सा पानी मिलाकर पेस्ट तैयार करें।

अब इसे अपने सिर बालों में अच्छी तरह से लगा लें। इसे 30 मिनट तक लगा रहने दें और फिर बालों को शैम्पू से धो लें। इस उपचार को हर दो दिन में एक बार करें जब तक कि रूसी पूरी तरह से खत्म न हो जाये। यह उपचार बालों का झड़ना भी रोकता है।

[Read This Also – बालों में रूसी के उपाय – देसी नुस्खे]

सिर के जूं को मारता है Leekh Aur Juye Ko Mata Hai

सिर में एर बार जूं हो जाने पर उसे जड़ से खत्म करना बहुत ही मुश्किल होता है। इसके लिए नीम के पाउडर का इस्तेमाल किया जा सकता है। नीम के पाउडर का पेस्ट तैयार करके बालों पर लगायें। अब इसे सूखने और हलके गर्म पानी से बालों को धो लें। इस उपचार को लगातार दो महीनों के लिए हफ्ते में 2-3 बार करें। ऐसे करने से जूएं जड़ से खत्म हो जाएंगे।

कब्ज से दिलाए राहत Relief from constipation

कब्ज की समस्या में भी नीम का इस्तेमाल फायदेमंद होता है। ऐसे में कब्ज होने पर दो-तीन ग्राम नीम पाउडर और 2 से 4 काली मिर्च दिन में तीन बार लेनी चाहिए। ये उपाए कर के देखिए कब्ज की समस्या से राहत तो जरूर मिल जाएगा।

[Read This – कब्ज का प्राकृतिक औषधियों द्वारा इलाज]

नीम का पाउडर कैसे बनाएं How to make neem powder

यूं तो नीम का पाउडर बाजार में भी बड़ी आसानी से मिल जाता है, लेकिन अगर इसे घर पर बना लें तो ज्यादा अच्छा होगा। इसे बनाने में कोई परेशानी भी नहीं होती। ये बड़ी ही आसानी से घर पर बन जाता है।

इसके लिए नीम के पत्तों को धूप में दो- तीन दिन तक सुखा लें। इसके बाद इसे मिक्सी में डालकर इसका पाउडर बना लें। बस इतने में ही आपका गुणकारी नीम पाउडर बन कर तैयार हो जाता है। इसे किसी ठक्कन बंद डिब्बे में रखें और पानी ना जाने दें, तो ये सालों- साल चलेगा।

नीम का स्वाद तो कडुआ होता है लेकिन अब आप यह जान गए होंगे कि यह इनके बावजूद यह बहुत गुणकारी होता है | तभी तो नीम के बारे में कहा जाता है की एक नीम और सौ हकीम दोनों बराबर है। इसमें कई प्रकार के गुणकारी रसायन मौजूद होते है जिनमें मार्गोसिं, निम्बिडीन, निम्बेस्टेरोल प्रमुख है। नीम में अनेक गुणों का खजाना है |

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*