चाहे पायरिया की शिकायत हो या फिर कब्ज की प्रॉब्लम, हर मर्ज की दवा है पान का पत्ता

पान के पत्ते के फायदे जानकर आप दंग रह जायेगे Paan Ke Patte Ke Fayde Hindi Me

भारतीय समाज में पान के पत्ते को बहुत ही पवित्र माना जाता है, इसलिए आपने भी देखा होगा कि हर पूजा- पाठ या शुभ अवसर पर पान के पत्तों का इस्तेमाल किया जाता है। हमारे समाज में पान के पत्तों का प्रयोग पूजा में पुरातन काल से ही किया जाता है।

सिर्फ पूजा ही नहीं बल्कि भारत में पान खाने के शौकीन भी बहुत हैं। तभी तो आपको भारत के हर बाजार, गली- नुक्कड़ में छोटी- से- छोटी भी पान की दुकानें देखने को मिल जाएंगी।

पान के शौकीन तो भारत के नवाब भी रहे हैं। पान का पत्ता हजारों सालों से हमारी संस्कृति का एक अभिन्न अंग रहा है। ये हमारी परंपरा में शामिल है।

पान के पत्ते को अंग्रेजी में Betel Leaf कहा जाता है। संस्कृत में इसे ताम्बुल कहते हैं। वैज्ञानिक दृष्टि से देखा जाए तो पान एक महत्वपूर्ण वनस्पति है। दिल के आकार का पान पत्ता औषधीय गुणों से भी भरा हुआ होता है। हमारे स्वास्थ्य के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होता है।

ये बात शायद ही आपको मालूम हो कि पान में क्लोरोफिल मौजूद होता है, जिसका प्रयोग दवाईयां बनाने में किया जाता है।

भारत में तो पान के साथ कत्था, सुपारी, चूना, जर्दा इत्यादि चीजें मिलाकर खाते हैं, जो हानि भी पहुंचाता है, क्योंकि जर्दा तंबाकू का ही एक रुप होता है, लेकिन सिर्फ पान खाने के फायदेमंद अनगिनत हैं, तो आइए जानते हैं कि क्या हैं पान के पत्ते खाने के फायदे (Paan Ke Patte Ke Fayde Hindi Me)।

मुंह के छालों को दूर करे Pan Ke Patto Ke Fayde

पेट की गर्मी की वजह से मुंह में छाले होना आम बात है। मुंह में छाला होने से बड़ी ही परेशानी का सामना करना पड़ता है। खाने- पीने में भी काफी तकलीफ होती है। ऐसे में पान का पत्ता चबाने से मुंह के छालों में राहत मिलती है। पान के पत्ते को चबाकर पानी से कुल्ला कर लें, ऐसा करने से आपको जरुरत राहत मिलेगी। आप चाहे तो पान में कत्था लगवाकर या मीठा पान भी खा सकते हैं।

पायरिया में लाभकारी Beneficial in Pyria

पायरिया मुंह की ऐसी बिमारी है, जो एक बार जिसे हो जाए उसे बहुत परेशान कर देती है। क्योंकि इसमें रोगी के मुंह से बहुत ही तेज बदबू भी आती है और मसूड़ों से खून भी निकलता है। यूं तो पायरिया के लिए बहुत से घरेलू नुस्खे हैं, लेकिन पान के पत्ते का इस्तेमाल इसमें बहुत लाभकारी होता है।

पान को कपूर के साथ चबाने से पायरिया से निजात पाया जा सकता है, लेकिन ध्यान रहे पान की पीक मुंह के अंदर नहीं जानी चाहिए। पान खाने से मुंह में एस्कॉर्बिक एसिड का स्तर भी बना रहता है, जिससे मुंह की बिमारियां नहीं होती। इसलिए पान खाने मुंह की कई बिमारियों के लिए बहुत ही लाभदायक है।

कब्ज से राहत दिलाता है Constipation Se Rahat

पान का पत्ता हमारे पाचन क्रिया के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। कब्ज की दिक्कत हो या गैस्टिक की ये सभी परेशानियों में कारगर साबित होता है। पान का पत्ता सैलिवरी ग्लैंड को सक्रिय करता है, जिससे लार बनने में मदद मिलती है।

उचित मात्रा में लार बनने से खाना ज्यादा अच्छे से पचता है, जिससे कब्ज और गैस्टिक की समस्या नहीं होती है। पान का पत्ता एक अच्छा एंटीऑक्सीडेंट होता है। जो पेट में पीएच लेबल को सामान्य बनाने में मदद करता है। जिससे कब्ज की प्रॉब्लम नहीं होती। कब्ज से छुटकारा पाने के लिए रोज सुबह खाली पेट पान का पत्ता चबाएं।

भूख बढ़ाता है Bhookh Ko Badhata Hai

जैसा कि आप पहले ही जान चुके हैं कि पान का पत्ता हमारे शरीर में पीेएच स्तर को संतुलित रखता है। पीएच स्तर संतुलित होने से समय पर भूख लगती है। ये पेट से हानिकारक तत्वों को खत्म करता है। जिससे भूख ना लगने की समस्या खत्म हो जाती है और समय पर भूख लगता है।

कम पेशाब की समस्या का निदान Kam Peshab Ka Upchar Paan Se Kare

अगर आप पेशाब कम होने की समस्या से जूझ रहे हैं, तो पान का पत्ता आपके लिए बहुत उपयोगी साबित हो सकता है। ये वॉटर रिटेंशन का एक कारगर इलाज है। पान के पत्ते के रस में थोड़ा दूध मिलाकर पीेएं, इससे आपकी दिक्कत दूर हो जाएगी।

शरीर की दुर्गन्ध दूर करता है Removes body odor – Shareer Ki Durgandh Ko Dur Karta Hai

गर्मियों में अक्सर पसीने की वजह से बदबू आती रहती है। ऐसे में पान के पत्ते का रस काफी फायदेमंद होता है। इसके लिए नहाने के पानी में पान के रस दो बूंद डाल दीजिए। इससे पसीने की बदबू दूर हो जाएगी। पत्ते के रस की जगह आप बाजार में मिलने वाले तेल का भी प्रयोग कर सकते हैं।

ओरल कैंसर से बचाता है Prevents Oral Cancer

पान का पत्ता चबाने से मुंह के कैंसर से भी बचा जा सकता है, लेकिन पान बिना किसी तंबाकू यानी कि जर्दा के बिना ही खाना चाहिए। चूंकि पान में एब्सकोर्बिक एसिड और एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो मुंह में मौजूद हानिकारक तत्वों को खत्म करता है।

सिरदर्द का कारगर इलाज Effective treatment of headache

पान के पत्ते में कई औषधीय गुण मौजूद होते हैं। जिसकी वजह से सिरदर्द में भी ये काफी काम आता है। पान के पत्ते में दर्दनाशक गुण पाए जाते हैं। इसमें एनाल्जेसिक और कूलिंग गुण होते हैं, जो सिरदर्द में फायदेमंद होते हैं। पान के पत्ते को पीसकर इसका लेप सिर में लगाने से काफी राहत मिलती है। आप पान के तेल का भी इस्तेमाल इसके लिए कर सकते हैं।

सेक्स पावर बढ़ाने में इस्तेमाल Sex Power Ko Badhata Hai

पान खाने का प्रचलन पुरुषों के बीच ज्यादा होता है। पान को सेक्स पावर बढ़ाने में भी कारगर माना जाता है। कहा जाता है कि प्राचीन काल में लोग कामोत्तेजना बढ़ाने के लिए पान के पत्ते का ही इस्तेमाल करते थे। ये ही नहीं इरेक्टािल डिसफंक्शन में भी पान का पत्ता किसी औषधि से कम नहीं है। इसके लिए खाने के सात पान के पत्ते को चबा- चबा कर खाना चाहिए।

शरीर के घाव का इलाज ghaav ka ilaaj

पान के पत्ते में एंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं। जो घाव के लिए काफी गुणकारी होता है। इसका एंटी- बैक्टीरियल गुण घाव में मौजूद बैक्टीरिया को जड़ से खत्म कर देता है। जिससे घाव जल्द ही ठीक हो जाता है। पान के पत्तों को घावों के लिए एक अच्छा औषधि कहा जाता है। पान के पत्तों को पीसकर घाव में लगाएं और उसके उपर पान का पत्ता रखकर किसी साफ कपड़े से बांध लें।

डायबिटीज में लाभकारी Beneficial in diabetes

पान के पत्ते में एंटी डायबिटीज गुण भी पाए जाते हैं। इसे चबाने से शरीर में शुगर लेबल को नियंत्रित किया जा सकता है। शुगर के रोगी को नियमित रुप से पान के पत्ते का सेवन करना चाहिए।

नकसीर में फायदेमंद Beneficial In Nosebleed

कई लोगों को नाक से खून आने की शिकायत होती है। कई बच्चों को भी ज्यादा गर्मी के मौसम में बाहर निकलने से नकसीर की परेशानी होती है। इसमें भी पान का पत्ता काफी कारगर होता है। ये खून के प्रवाह को रोकने में काफी मदगार साबित होता है। नाक से खून आने पर पान के पत्ते को गोल बनाकर नाक में डालें, इससे खून आना बंद हो जाएगा।

वजन भी कम करता है  Weight Ko Kam Karne Ke Liye

ज्यादा वजन होने की समस्या से आज बहुत से लोग परेशान रहते हैं, क्योंकि ज्यादा वेट कई बिमारियों की वजह होता है। ऐसे में पान के पत्ते का इस्तेमाल आपके वजन कम करने में काफी मदद कर सकता है। पान के पत्ते को चबाकर खाने से शरीर का मेटाबॉलिज्म सिस्टम सही होता है। जो वजन कम करने में मददगार साबित होता है। ये शरीर में मौजूद फैट को भी कम करता है।

सूजन कम करता है Reduces Swelling

कई बिमारियां ऐसी हैं, जिनमें शरीर में सूजन की समस्या हो जाती है। गठिया और ऑर्कराइटिस जैसे बिमारियों में होने वाले सूजन में भी पान के पत्ते का इस्तेमाल किया जा सकता है। चूंकि पान के पत्ते के तेल में फिनोल नामक पदार्थ पाया जाता है, जिससे सूजन में आराम मिलता है।

कफ दूर करता है Cough Aur Khasi Ko Kam Karta Hai

जुकाम की वजह से कफ होना आम बात है, लेकिन ज्यादा कफ होना किसी बड़ी परेशानी का कारण बन सकता है। इसलिए समय रहते इसका इलाज किया जाना चाहिए। पान के पत्ते में शहद लगाकर खाने से कफ से राहत मिलता है। पत्ते की जगह रस का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

खराब किडनी में लाभकारी Beneficial in bad kidney

किडनी खराब होने पर तेल मसाले, मांसाहार जैसी खाऩों पर रोक लग जाती है। किडनी खराब होने की अवस्था में पान के पत्ते का प्रयोग करना अच्छा होता है। इसके लिए पान के पत्ते को चबाकर जरूर खाएं।

थकान दूर करता है Thakaan Ko Dur Karta Hai

पान का पत्ता थकान मिटाने में भी फायदेमंद होता है। पान के पत्ते के रस को शहद के साथ मिलाकर खाने से थकान और कमजोरी दूर होती है। ये शरीर में टॉनिक की तरह काम करता है। ये सुस्ती का एक अच्छा इलाज है। बशर्ते पान को तंबाकू के साथ मिलाकर नहीं खाया जाए। तंबाकू के साथ पान मिलाकर खाने से इसमें मौजूद सभी गुण बेकार हो जाते हैं।

धूम्रपान छुड़वाने में मददगार Helpful in quitting smoking

अगर आप धुम्रपान छोड़ना चाहते हैं तो पान का पत्ता इसमें आपकी मदद कर सकता है, इसके लिए ताजा पान के पत्ते को चबाकर खाएं। इससे नशा छोड़ने में आपको  बहुत मदद मिलेगी।

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*