कैंसर का इलाज एक्सरसाइज करने से Cancer Ka Upchar Exercise Se Kaise Kare

Cancer Ka Desi Gharelu Ilaj In Hindi

क्या आपको यह जानकर आश्चर्य नहीं होगा कि कैंसर का इलाज भविष्य में एक्सरसाइज (Exercise) करने से ही हो जाएगा | जरूर आपको आश्चर्य होगा | लेकिन एक रिसर्च में यह खुलासा हुआ है कि कैंसर का इलाज एक्सरसाइज करने से हो जाएगा | विशेष रुप से प्रोस्टेट कैंसर का |

इसलिए अगर आपका कोई दोस्त परिचित या फिर दूर का पहचान वाला अगर प्रोस्टेट कैंसर से परेशान है तो उसे रोजाना एक्सरसाइज करने की सलाह अवश्य दीजिए | क्योंकि कनाडा में हुए एक रिसर्च में यह सामने आया है कि एक्सरसाइज करने से प्रोस्टेट कैंसर को ठीक किया जा सकता है | वैसे जिन लोगों का अभी कहीं इलाज चल रहा है वह भी डॉक्टर से सलाह लेकर एक्सरसाइज कर सकते हैं | क्योंकि एक्सरसाइज करने से शरीर को किसी तरह का नुकसान नहीं होता है लेकिन थोड़ी सावधानी बरतना जरूरी होता है |

Cancer Ka Ilaj Exercise Se Ho Sakta Hai

एक्सरसाइज शरीर को चुस्त दुरुस्त और ऊर्जावान बनाए रखता है | इसके अलावा भी इसके कई तरह के फायदे हैं | व्यायाम न केवल शरीर की रोगों की रक्षा करता है बल्कि यह कई तरह के इलाज में मदद भी करता है | फिलहाल प्रोस्टेट कैंसर के मरीजों को रोजाना किए जाने वाले व्यायाम के असर पर कनाडा में आकलन किया जा रहा है | इंटरनेशनल क्लीनिकल ट्रायल टेस्ट से पहली बार प्रोस्टेट कैंसर से ग्रस्त पुरुषों के जीवन में सुधार लाने के लिए तीव्र शारीरिक व्यायाम के असर का मूल्यांकन किया जा रहा है |

यूनिवर्सिटी ऑफ मांट्रियल रिसर्च सेंटर के मशहूर केंसर विशेषज्ञों का मानना है कि फिजिकल एक्सरसाइज का कैंसर पर सीधा प्रभाव संभव है | यह प्रोस्टेट कैंसर के मरीजों के इलाज में मददगार साबित हो सकता है | कैंसर के बढ़ने के दौरान मरीजों की जीवनशैली ज्यादातर बहुत सुस्त हो जाती है एक्सरसाइज करने से कैंसर की प्रगति प्रभावित होगी |

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आस्ट्रेलिया में एक रिसर्च किया गया है जो यह बताता है की एक्सरसाइज वास्तव में Metastatic प्रोस्टेट कैंसर रोगियों के जीवन को बढ़ाने में मददगार साबित हो सकता है | यह रिसर्च आयरलैंड और आस्ट्रेलिया में शुरू किया गया है और भविष्य में दुनिया के करीब 50 अस्पताल परीक्षण के लिए मरीजों की भर्ती शुरू कर देंगे प्रोस्टेट कैंसर से पीड़ित कुल 900 मरीज इस परीक्षण में भाग लेंगे | इस रिसर्च के पीछे यह तर्क है की एक्सरसाइज कैंसर की प्रगति पर सीधा प्रभाव डालने के साथ ही रोगियों को जटिल ट्रीटमेंट थेरेपी बर्दाश्त करने की क्षमता प्रदान करता है |

यह रिसर्च एक दिन मील का पत्थर साबित होगा इसमें कोई संदेह नहीं है | वैसे एक्सरसाइज को शरीर के लिए हमेशा से ही फायदेमंद माना गया है | ऐसे में कैंसर रोगियों को नियमित रुप से एक्सरसाइज करने की सलाह देनी चाहिए | लेकिन एक्सरसाइज शुरू करने से पहले आप किस विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श जरूर लें |

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*