पहली बार जिम ज्वाइन करते समय कौन सी गलतियाँ नहीं करनी चाहिए

Common Gym Mistakes You Must Avoid - Tips In Hindi

पहली बार जिम ज्वाइन करते समय कौन सी गलतियाँ नहीं करनी चाहिए 6 Common Gym Mistakes You Must Avoid 

जो लोग भी जिम को ज्वाइन करते है वे कभी न कभी पहली बार जिम गए होंगे और उनसे भी कुछ गलतियाँ हुई होगी जिन्हें वे नहीं चाहते कि कोई और ऐसी गलती करे. इसी बात को ध्यान में रखकर हम आपको कुछ ऐसी गलतियों के बारे बताएगें जिससे आपको परेशानी न हो.

सबसे पहले तो आपको अपने को जिम में जाने के लिए मानसिक रूप से तैयार करना होता है. दूसरी बड़ी बात यह होती है कि किस जिम को ज्वाइन किया जाय जो आपके बजट में भी हो, टाइमिंग आपके अनुसार हो और लोकेशन ऐसी हो कि आप आसानी से जा सकें.

जिम को ज्वाइन करके आप केवल आधा काम करते है. यदि आप जिम से फायदा उठाना चाहते हैं तो आपको रेगुलर होना होगा और समर्पित भी. आप तुरन्त ही रिजल्ट्स की उम्मीद न करे, क्योकि इसमे समय लगता है. शुरू में जिम ज्वाइन करके आपको बहुत बढ़िया लग सकता है या फिर बहुत खराब भी. अच्छा तभी हो सकता है, यदि आप ट्रेनर की सभी बातों को माने और उसी अनुसार वर्कआउट करें. खराब हो सकता हो यदि आप अपनी ईगो को बीच में लाते हैं.  कभी भी आप ऐसा न जताएं कि आप जिम के मास्टर हैं जबकि वास्तव में आप हैं नहीं.

जिम में आप ये 6 गलतियाँ कभी न करें –

1. जिम में अधिकता न करे

आपको जिम में पहले वीक में ही सबकुछ ट्राई करना अच्छा लग सकता है, लेकिन आप ऐसा न करें, क्योकि आपकी बॉडी को एडजस्ट होने समय लगेगा. आप तुरंत ही वेट को उठाना चाहेंगे, लेकिन आपका फॉर्म में होना और तकनीक को जानना अधिक आवश्यक है. आपको, अपने को शोऑफ करने की बजाय अधिक से अधिक वर्कआउट करना चाहिए, लेकिन अधिकता करने से बेकार में इंजुरी (चोट) हो सकती है.

2. अपनी लोअर बॉडी को कभी इग्नोर न करें

अधिकतर जिम जाने वाले लोग अपर बॉडी पर तो काफी मेंहनत करते हैं, लेकिन लोअर बॉडी को इग्नोर करते हैं. टाँगे शरीर का लगभग आधा पार्ट कवर करतीं हैं, लेकिन लोग एक घंटा भी इन पर नहीं देते हैं. ज्यादातर जिम जाने वाले लोग लगभग पूरे 5 दिन अपनी अपर बॉडी की excercise में लगा देते हैं और केवल एक दिन अपनी Legs के लिए देते हैं. Legs का वर्कआउट थोड़ा पेनफुल हो सकता है, इसलिए आपको वीक में 2 बार लेग्स पर ध्यान देना होगा और उसी पैशन के साथ जिस पैशन से आप अपनी अपर बॉडी को ध्यान दे रहें है.

3. सभी मसल एरिया पर बराबर ध्यान दें

हम सभी के पसंदीदा मसल एरिया होते हैं और हम सभी अपनी सारी कोशिश उसी एरिया को डेवेलप करने में लगा देते हैं. लेकिन ऐसा करना ठीक नहीं होता हैं. शरीर की सभी मसल महत्वपूर्ण हैं, इसलिए सभी एरिया पर बराबर ध्यान देना जरूरी है. एक्सपर्ट्स का कहना है, कि कुछ लोग हमेशा बॉडी के एक ही पार्ट पर रोजाना excercise करते हैं, जोकि ठीक नहीं हैं. ऐसा करने से आपके शरीर का एक हिस्सा अधिक मजबूत हो जायेगा, जबकि दूसरे पार्ट कमजोर रह जायेंगे. इस तरह शरीर भद्दा दिखेगा.

4. वार्मअप और स्ट्रेचिंग के बीच का अन्तर जाने

आप चाहें या न चाहें, कोल्ड स्ट्रेचिंग सही नहीं है. इसका मतलब यह हैं कि वेट लिफ्टिंग के पहले स्ट्रेचिंग नहीं करनी चाहिए. ज्यादातर लोग वार्मअप और स्ट्रेचिंग में अन्तर समझ नहीं पाते हैं और दोनों को एक दूसरे की जगह अपनाते हैं. काफी अध्धयनों के ज्ञात हुआ है, कि वर्कआउट करने से पहले स्ट्रेचिंग करने से परफॉरमेंस ठीक नहीं रहता है. आप स्ट्रेचिंग को अपने वर्कआउट के बाद कर सकते हैं या दिन में कभी और कर सकते हैं. आप यह याद रखें कि आप वर्कआउट करने से पहले वार्मअप कर लें और स्ट्रेचिंग उसके बाद ही करें.

5. कार्डियो को वेट लिफ्टिंग के बाद ही करें

ट्रेडमिल में 15-20 मिनट तक समय बिताने में कोई परेशानी नहीं है, लेकिन वेट ट्रेनिंग के पहले इसे करने से आपको थकान जल्दी आ जायेगी. दुर्भाग्य से अपने देश में अधिकतर लोग एक बड़ी गलती करते हैं, वे पहले 30 से 40 मिनट कार्डियो में लगाते है और उसके बाद ही वेट ट्रेनिंग करते हैं, इसके बाद एनर्जी कम होने की शिकायत करते हैं. यदि आप कार्डियो करना चाहते हैं, तो आप इसे वेट ट्रेनिंग के बाद कर सकते हैं या अलग से दूसरे सेशन में कर सकते हैं.

6. सबकुछ अपनी याददास्त पर ही न छोड़ें

जब शुरू में आप जिम ज्वाइन करते हैं, तो बहुत सारी तकनीक, नई excercises आपको जानने को मिलती हैं. इससे आप कई बातें भूल सकते हैं और इस वजह से गलत तरीके अपना सकते हैं. इस कमी को पूरा करने के लिये आप एक डायरी में सब जरूरी बातें नोट कर सकते हैं. इससे आप अपने वर्कआउट को बड़े आराम से ट्रैक कर सकते हैं और फुरसत में इसे देखें और जाने कि कोई महत्वपूर्ण बात छूट तो नहीं रही. सबसे अधिक याद रखने वाली बात यह है, कि यदि आप किसी तकनीक या excercise को सही प्रकार से नहीं जानते हैं तो उसे जिम ट्रेनर से जरूर पूछे.

जीवन में हंसी का महत्व और 10 फायदे Benefits of Laughing In Hindi

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*