बच्चों में आँख आना का घरेलू ईलाज Conjunctivitis Home Treatment in Hindi

Conjunctivitis Home Treatment in Hindi. Aankh aane ka ilaj.

बच्चों में Conjunctivitis (आँख आना या आँख गुलाबी होना) का घरेलू ईलाज – Conjunctivitis Home Treatment in Hindi. Aankh aane ka ilaj 

क्या आपके बच्चे की आँख लाल या गुलाबी है? क्या वे सूजी हुई या उनसे पानी निकल रहा है? गौर करें, आपके बच्चे को Conjunctivitis हुआ है.

Conjunctivitis आमतौर पर गुलाबी आँख के नाम से जाना जाता है, जो आँख के सफ़ेद भाग में एक पतले और पारदर्शी पर्त जिसे Conjuctiva कहते है, में जलन के कारण होता है. यह अधिकतर bactirial या viral infection या allergic reaction का परिणाम होता है. यह आँखों में pollen, dust या धुंए के कारण हो सकता है.

यह एक आम eye infection है जो बच्चो या बड़ों को समान रूप से प्रभावित करता है. यह एक या दोनों आँखों में हो सकता है.

बच्चो में Conjunctivitis के कुछ सामान्य लक्षण आँख के सफ़ेद भाग का लाल होना, eyelid के निचले भाग का लाल होना, आँखों में जलन, उनका लाल और पानी आना होता है. शुरुआत में आँखों में थोडा दर्द होता है, जिसमे कुछ घंटो बाद सूजन, चुभन और जलन भी होने लगता है.

आँखों का लाल होना चिंता का विषय हो सकता है. यह संक्रमण बहुत तेजी से फैलता है जिससे बच्चो को कई दिन स्कूल छूट सकता है. हालाँकि, यह काफी ख़राब दिखता है पर इससे आँखों से देखने पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है.

इस बीच आप इसका प्राकृतिक ईलाज करके इसके लक्षणों और साथ साथ इसके संक्रमण से बचा सकते हैं.

बच्चों में conjunctivitis (आँखे लाल होना) के 10 प्रमुख घरेलू ईलाज निम्न हैं:

1. ठंडा सेकना

ठंडा सेंक, इसका एक प्रमुख ईलाज है. इससे आँखों की चुभन और सूजन कम होती है. बच्चे को इससे काफी आराम महसूस होता है जबतक की संक्रमण समाप्त न हो जाये.

  • एक साफ़ ऊनी कपडा ठन्डे पानी में डुबाकर, इसे निचोड़ लें. (दोनों आँखों के लिए अलग कपड़े का प्रयोग करें)
  • इसे बच्चे बंद आँखों पर कुछ मिनटों तक रखें.
  • इसे दिन में कई बार करें.

2. गर्म सेंकना

गर्म सेंक भी conjunctivitis को आराम देता है. यह दर्द और जलन को कम करने के साथ साथ आँखों को साफ़ भी करता है.

गर्म सेंक से आँखों को काफी आराम मिलता है. यह bacterial या viral conjunctivitis में ज्यादा लाभदायक है.

  • एक साफ़ ऊनी कपडा हल्के गर्म पानी में डुबाकर, इसे निचोड़ लें. (दोनों आँखों के लिए अलग कपड़े का प्रयोग करें)
  • इसे बंद आँखों पर कई बार रखें.
  • इसे दिन में 3-4 बार दोहराए.

आँखों की गन्दगी को साफ़ करने के लिए गर्म पानी से आँख के अंदर और बाहरी भागों को साफ़ करने में भी गर्म पानी का प्रयोग कर सकते हैं.

3. सेब का सिरका

सेब का सिरका conjunctivitis के ईलाज में प्रमुख है. इसकी antimicrobial गुण bactirial infections से लड़ने में सहायक है, जोकि conjunctivitis का एक प्रमुख कारण है.

  • 1/4 चम्मच सेब के सिरके को 1/2 कप उबले पानी को ठंडा करके, मिलायें.
  • एक cotton ball को इस मिश्रण में डुबाकर संक्रमित आँखों पर रखें. (दोनों आँखों के लिए अलग कपड़े का प्रयोग करें)
  • cotton ball से आँखों के बाहरी भागों को भी साफ़ करें.
  • इसे कुछ घंटों के अन्तराल पर 2-3 दिन करें.

नोट: यह मिश्रण कुछ देर के लिए आँखों में लगता (चुभता) है.

4. माँ का दूध या breast milk:

माँ का दूध नवजात शिशु के लिए सबसे अच्छा भोजन है और ये आँखों के संक्रमण में भी सहायक है.

यह कई antibodies से युक्त होता है विशेषतया immunoglobulin E जो conjunctivitis से बचाव और लड़ता भी है.

  • steraliszed dropper से breast milk की कुछ बूंदें प्रभावित आँखों में डालें.
  • जबतक संक्रमण ख़त्म न हो जाये इस क्रिया को दिन में 3-4 बार दोहरायें.

ये भी पढ़ें –

  1. आंखों में पानी आने पर घरेलू इलाज Home Remedies for Watery Eyes
  2. अच्छी दृष्टि के लिए जरूरी है मैकुलर पिगमेंट

5. Black Tea या काली चाय:

Black Tea, conjunctivitis का बहुत अच्छा ईलाज है. Black Tea में पाया जाने वाला tannin आँखों में जलन और चुभन को कम करता है. यह viral और bactirial infection को भी रोकता है, जिससे जल्द आराम मिलता है.

  • एक Black Tea bag को हल्के गर्म पानी में डूबा लें. (यदि दोनों आँखों में संक्रमण हो तो अलग- अलग tea bag का प्रयोग करें)
  • इसे ठन्डे होने का इंतजार करें.
  • इसे करीब 15 मिनट तक संक्रमित आँखों पर रखें.
  • जलन से राहत के लिए इसे कुछ घंटों बाद पुनः दोहरायें.

बच्चों के आँखों को धुलने लिए black tea के हल्के घोल का इस्तेमाल करें.

6. Boric Acid:

Boric Acid, conjunctivitis के साथ-साथ सभी प्रकार के आँखों के संक्रमण में प्रयोग होता है. अपने antibactirial और antifungal गुण के कारण यह conjunctivitis में बहुत लाभप्रद है.

आँखों में पानी आना, लाल होना, सूखापन और जलन में भी काफी लाभप्रद है:

  • एक कप उबले और छने हुए पानी में एक चम्मच Boric Acid मिलाये. ठंडा होने के बाद घोल को एक sterilized glass dropper bottle में डाल लें. करीब एक सप्ताह तक इसकी 2-2 बूंदें, दिन में 4 बार प्रत्येक आँख में डालें.
  • एक दुसरे उपाय में, तैयार घोल में cotton ball भिगोकर संक्रमित आँखों के कोनो पर रखें. यह प्रक्रिया दिन में दो या तीन बार दोहरायें, प्रत्येक बार नए cotton ball का प्रयोग करें. green tea और chamomile tea का प्रयोग भी इसी प्रकार कर सकते हैं.

7. Saline Wash या नमक के पानी से आँखों को धोना:

नमक का पानी conjunctivitis के ईलाज में काफी लाभदायक है. यह एक प्राकृतिक antiseptic और cleansing agent की तरह काम करता है और आँखों में पानी आने से बचाता है.

  • एक कप साफ पानी में 1/2 चम्मच नामक डालकर उबाल लें.
  • इस मिश्रण को पूरा ठंडा हो जाने दें.
  • dropper या eyecup की मदद से इस मिश्रण से आँखों को धो लें.
  • 2-3 बार इस क्रिया को कुछ दिनों तक दोहराए.

8. Activated Charcoal Powder या कोयले का पाउडर:

कोयले का पाउडर conjunctivitis में तुरंत राहत देने में सहायक है.

  • 1/2 कप साफ़ पानी में 1 चम्मच कोयले का पाउडर मिलाये. इस मिश्रण को coffee filter के द्वारा छान लें और 2-3 बूंदें प्रभावित आँखों में दिन में कई बार डालें.
  • एक और विधि में, 1/2 कप पानी में, 1/8 चम्मच कोयले का पाउडर मिलायें और इस मिश्रण में cotton swab को भिगोकर संक्रमित आँखों को साफ़ करें. दोनों आँखों के लिए अलग अलग cotton swab का प्रयोग करें और दिन में प्रक्रिया को कई बार दोहराए.

9. नारियल तेल – Conjunctivitis Home Treatment By Coconut Oil

Conjunctivitis के कारण आँखों के आंसूओं की नली को साफ़ करने में नारियल का तेल एक अच्छा ईलाज है. इसका anti-inflammatory गुण आँखों की जलन को शांत करने में लाभदायक है.

  • नारियल तेल को हल्का गर्म करें.
  • आँखों और नाक के बीच के भाग को हल्के हाँथो से मालिस करें.
  • यह क्रिया दिन में कई बार दोहराए.

नारियल के तेल को आँखों के पलकों पर भी प्रयोग कर सकते है. जिससे आँखों में पानी आने से बने अवरोध या crust से बचाव होता है.

नोट: ईलाज के दौरान संक्रमण से बचने के लिए अपने हांथों को अच्छी तरह धों लें.

10. Colloidal Silver से आंख आने का इलाज करें 

conjunctivitis के साथ साथ आँखों के संक्रमण के लिए Colloidal Silver एक और प्रसिद्द ईलाज है. यह bacterial infections के साथ साथ viral infections से लड़ने में भी सहायक है.

  • colloidal silver की दो बूंदें संक्रमित आँखों में डालकर पलकों को थोडा झपकाएं जिससे यह आँख के भीतर जा सके.
  • इसे दिन में 2 बार और 2 दिनों तक करें.

नोट: colloidal silver को आँखों में दो दिन से ज्यादा न डालें.

कुछ अन्य इलाज Other tips for Conjunctivitis Home Treatment:

  • आँखों को साफ़ करते समय, आँखों के अन्दर के भाग (नाक के बगल) से शुरू करके बाहरी भाग तक जाये.
  • बच्चो की आँखों के ईलाज के समय अपने हांथो को अच्छी तरह से साबुन और गर्म पानी से धोएं. अन्य पारिवारिक सदस्यों को संक्रमण से बचाने के लिए disposal paper towel का प्रयोग करें.
  • संक्रमित आँखों के संपर्क में आने वाले eye drops, तौलिये और तकिये के cover को share करने से बचें.
  • संक्रमित बच्चे द्वारा उपयोग में लाये जा रहे कपड़े, तौलिये, बिस्तर को गर्म पानी में धोने चाहिए.
  • यदि conjunctivitis केवल एक आँख में हो, तो एक ही कपड़े, cotton swab आदि से दोनों आँखों को न छुएँ.
  • केवल साफ तौलिये और धुले कपड़ों का प्रयोग करें.
  • बच्चो को swimming pool में भेजने से बचें.
  • क्योंकि संक्रमण छूने से फैलता है, इसलिए बच्चो को स्कूल या बाहर न भेजें.
  • जब तक संक्रमण समाप्त न हो जाये बच्चो को contact lens के उपयोग करने से बचायें.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*