डैमेज फ्री हेयर पाने के घरेलु नुस्खे Damage free hair Pane Ke Gharelu Nuskhe

क्या आपके बाल रूखे और बेजान नजर आते हैं? क्या आपके बाल दोमुंहे और फ्रिजी (frizzy) हैं? बाल बहुत आसानी से डैमेज हो जाते हैं और उन्हें रिपेयर होने में वक़्त लगता है। अच्छी बात ये है, कि ऐसे कुछ आसान तरीके मौजूद हैं, जिन्हें आप अपने बालों की हैल्थ को दोबारा पाने और उन्हें फिर से हैल्दी बनाए रखने के लिए इस्तेमाल कर सकती हैं(Hair Damage Hone Ke kai Karan Hote Hai)

हमारे बाल केराटिन नाम की प्रोटीन से बने होते हैं और उसके ऊपर एक परत क्यूटिकल्स की होती है क्यूटिकल्स वालों की रक्षा करते हैं और उनमें चमक लचीलापन हुआ मजबूती बनाए रखते हैं बालों में जरूरत से ज्यादा कलरिंग या परमिंग कराने इसके अलावा बहुत अधिक केमिकल के प्रयोग और हीट प्रक्रिया से क्यूटिकल्स की परत नष्ट हो जाती है जिससे बालों से चमक खत्म हो जाती है और भी कमजोर होकर निस्तेज व भुरभुरी हो जाते हैं बालों को बहुत ज्यादा ब्लो ड्राई करने या बालों में कलरिंग व स्ट्रेटनिंग रॉड्स का ज्यादा प्रयोग करने से इन उपकरणों से निकलने वाली गर्माहट बालों के क्यूटिकल्स को जला देती है कलरिंग ब्लीचिंग परमिंग हुआ हेयर एक्सटेंशन का इस्तेमाल करने से भी बालों को नुकसान पहुंच सकता है ( Hair Fall Ke Karan)

Best Product to Stop Hairfall

डैमेज हेयर के लक्षण Damage Hair Ke Lakshan

  • अगर बाल कमजोर दिखाई दे तो समझ लीजिए कि आपके बालों को किसी डॉक्टर की जरूरत है
  • बालों में चमक ना हो और वह एकदम निस्तेज दिखाई दे ऐसे में भी आपको सावधान हो जाना चाहिए
  • बाल छूने में भुरभुरी और रूखे महसूस हो
  • इन्हें सवारने में भी बहुत मुश्किल हो और यह हमेशा उलझे रहे
  • बाल उड़े उड़े और दो मुंहे दिखाई दे

बालों को और डैमेज होने से कैसे बचाये Balo Ko Aur Damage Hone se Kaise Bachaye

दो मुंहे बालों की ट्रिमिंग करे -दोमुंहे बालों को काटना, उनसे बचने का सबसे अच्छा तरीका होता है। कई प्रॉडक्ट्स के द्वारा स्प्लिट एन्ड्स को ठीक करने का दावा करने के बावजूद भी, उन्हें केवल निकाला ही जा सकता है, रिपेयर नहीं किया जा सकता। अपने बालों को काटना, फौरन ही उन्हें फ्रेश बना सकता है और उनकी बॉडी को रिस्टोर कर सकता है। अपने बालों की लंबाई, टेक्सचर और स्टाइल के हिसाब से, अपने बालों को हर 6 से 12 हफ्ते के बीच में ट्रिम कराने का लक्ष्य रखें।

आपके स्टाइलिस्ट के द्वारा कुछ ज्यादा ही तेज धार वाली कैंची का इस्तेमाल किए जाने की पुष्टि कर लें। उन से वेट टिशू में काटने का कहें और फिर कट की जांच करें—अगर आपको कटे-फटे हुए टिशू फाइबर्स नजर आते हैं, तो किसी दूसरे स्टाइलिस्ट की तलाश कर लें।

  1. सिर्फ उतना ही काटें, जितने बालों को कटाने की आप में हिम्मत हो हीट, क्लोरीन और इसी तरह की चीजों के बहुत ज्यादा सामने आने की वजह से बाल छोर पर और भी ज्यादा डैमेज हो जाते हैं।
  2. स्टाइलिस्ट से आपके बालों को ब्लो-ड्राइ या हीट स्टाइलिंग टूल्स का इस्तेमाल न करने का कहें, क्योंकि इसकी वजह से अनहैल्दी बाल और भी ज्यादा डैमेज हो जाएँगे।

गीले बालों के साथ छेड़छाड़ मत करे Gile balo ke sath chedchad Mat Kare गीले बालों को डैमेज होने की संभावना सबसे ज्यादा होती है। शावर में अपने बालों को बहुत ज्यादा ज़ोर-ज़ोर से घिसने या फिर पानी सोखने के लिए उन्हें टॉवल से रगड़ने से बचें। अपने बालों को सुलझाने के लिए छोर से शुरू करके, जड़ों तक इस्तेमाल करने के लिए एक चौड़े दांतों वाली कंघी (wide-tooth comb) का इस्तेमाल करें। आप ऐसा बालों के गीले होने के दौरान कर सकती हैं, लेकिन ऐसा करने से पहले डिटेंगलिंग प्रॉडक्ट लगाने की पुष्टि जरूर कर लें।

Balo Ka Girna Rokne Ki Dua

हीट-स्टाइलिंग टूल्स का इस्तेमाल बंद कर दे Hair Heat Ka Istemal Mat Kare हीट आपके बालों को दिखने में डल और डैमेज बना सकती है, इसलिए जहां तक हो सके, हीट-स्टाइलिंग टूल्स का इस्तेमाल करने से बचें। अपने बालों को हवा में सूखने दें और उन्हें रोलर्स (rollers) और हेयर रैपिंग (hair wrapping) जैसी हीट-फ्री टेकनिक्स से स्टाइल करें।

  1. अपने बालों के ऊपर हीट-प्रोटेक्टेंट प्रॉडक्ट लगाने के बाद ही ब्लो-ड्रायर्स, कर्लिंग आयरन और फ्लेट आयरन्स का इस्तेमाल करें। अपने बालों को और भी ज्यादा सुरक्षा देने के लिए, टूल्स की हीट को बहुत ज्यादा तेज रखने की बजाय, टूल्स को लो सेटिंग पर ही रखें।
  2. केरेटिन (keratin) और आर्गन ऑइल के साथ में आयोनिक, सिरैमिक हीट स्टाइलिंग टूल्स का इस्तेमाल करना, बालों के डैमेज को कम करने का सबसे अच्छा तरीका होता है।

अपने बालों को डाई करने से बचे Apne Balo Ko Dye karne se Bache अपने बालों के कलर को ब्लीच करने, फिर उन्हें दूसरे कलर से डाइ करने के लिए केमिकल्स एड करना, बहुत ज्यादा डैमेजिंग होता है। ब्लीच और डाइ करने की वजह से बालों का टूटना, बालों का गिरना और बाल्ड पैचेस (गंजापन) आना शुरू हो जाता है। परमानेंट कर्लिंग और स्ट्रेटनिंग प्रोसेस भी बहुत ज्यादा डैमेजिंग होती है और इससे भी बचकर ही रहना चाहिए।

सल्फेट-फ्री शैम्पू और कंडीशनर का इस्तेमाल ही करे Sulfate free shampoo ka Hi Istemal Hi Kare सल्फेट्स से बने हुए हेयर केयर प्रॉडक्ट्स आपके स्केल्प पर मौजूद त्वचा को इरिटेट कर सकते हैं, बालों को रूखा कर सकते हैं, फ्रिजी हेयर देते हैं और कलर-ट्रीट किए बालों को फेड कर सकते हैं। सोडियम लॉरिल (sodium lauryl) या लॉरेथ सल्फेट्स (laureth sulfates) के साथ बने शैंपू और कंडीशनर से बचें। ये इंडस्ट्रियल क्लीनिंग एजेंट्स बालों से उनके प्रोटेक्टिव नेचुरल ऑइल को निकाल लेते हैं

जब आप सल्फेट-फ्री शैम्पू और कंडीशनर इस्तेमाल करना शुरू करती हैं, आपके बाल हल्के से ऑइली दिखना शुरू हो जाते हैं, ऐसा इसलिए क्योंकि हमारा शरीर हैल्दी बालों को मेंटेन रखने के लिए जरूरी ऑइल्स को प्रोड्यूस करने की आदत में ढला होता है। इसे लेकर परेशान न हों। आपके स्केल्प को उसके ऑइल प्रॉडक्शन को रेगुलेट करने में सिर्फ कुछ ही हफ्तों का वक़्त लगेगा।घरेलु

डैमेज फ्री हेयर पाने के घरेलु उपचार Damage free Hair Pane Ke Gharelu Upchar

रोजमैरी से उपचार Rojmerry se Upchar रोजमैरी यानि मेंहदी को सालों से को सुधारने के लिए जानी जाती है। लेकिन जब इसका इस्‍तेमाल बालों को रिन्‍स करने के लिए किया जाता है तो यह बालों के रोम को उत्तेजित करता है और स्‍कैल्‍प में सर्कुलेशन को बढ़ाकर बालों की ग्रोथ में सुधार करता है। इसके अलावा अगर स्‍कैल्‍प से जुड़ी कोई भी समस्‍या है तो यह एंटी-इंफ्लेमेटरी हर्ब आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। बनाने की विधि – रोजमैरी हेयर रिन्‍स बनाने के लिए आपको 1 कप पानी को 1 चम्‍मच रोजमैरी के साथ उबालें। फिर इसे नॉर्मल होने दें और अपने बालों को शैम्पू करने के बाद इस्‍तेमाल करें। अच्‍छे रिजल्‍ट के लिए इसे अपने हेयर केयर रुटीन का हिस्‍सा बनाए (Kis Vitamin Ke Karan Hair Loss Hota Hai).

लैवेंडर से उपचार Lavender se Upchar लैवेंडर में एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं, जिसका अर्थ है कि यह आपकी स्‍कैल्‍प में होने वाली खुजली को ठीक करने में हेल्‍प करेगा। सबसे अच्‍छी बात यह है कि लैवेंडर का कूलिंग और शांत प्रभाव भी होता है और इसलिए अगर तनाव के कारण आपके बाल झड़ रहे हैं, तो को दूर करने के लिए आप लैवेंडर रिन्‍स का इस्‍तेमाल एक अच्‍छा तरीका हो सकता है।

बनाने की विधि – लैवेंडर हेयर रिन्‍स बनाने के लिए आप 1 कप पानी में 2 टेबलस्पून सूखे लैवेंडर फूल मिलाएं। इसे उबालें फिर इसे ठंडा होने दें और अपने बालों में लगाएं।

कैमोमाइल से इलाज Chamomile Se Ilaj कैमोमाइल का पीला कलर बालों में चमक लाता है।  में मौजूद एंटीसेप्टिक तत्व आपके स्‍कैल्‍प में जमा गंदगी को दूर करने की शक्ति होती है, जिससे आपका स्‍कैल्‍प बैक्टीरिया फ्री होता है।

बीयर के फायदे Beer Ke Fayde हम इस बात से इंकार नहीं कर सकते हैं कि बीयर एक बहुत ही अच्‍छा हेयर कंडीशनर है। बी विटामिन से भरपूर होने के कारण, बीयर में बालों की नमी को बनाए रखने की शक्ति होती है।

बनाने की विधि -बस बीयर और पानी को समान मात्रा मिलाएं और अपने बालों को रिन्‍स करें। आप इसे बालों को चमकदार और लंबा बनाने के लिए हेयर केयर रुटीन का हिस्‍सा बना सकती हैं। तो देर किस बात की आप भी इन घरेलू नुस्‍खों से बालों को रिन्‍स करें और डैमेज बालों से छुटकारा पाएं। हम इस बात से इंकार नहीं कर सकते हैं कि बीयर एक बहुत ही अच्‍छा हेयर कंडीशनर है। बी विटामिन से भरपूर होने के कारण, बीयर में बालों की नमी को बनाए रखने की शक्ति होती है।

सेब का सिरका के लाभ Apple Vinegar ke Labh से उपचार -सेब साइडर सिरके में पोटेशियम होता है। इसके एंटी-वायरल, एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुणों के कारण, यह  और स्‍कैल्‍प की अन्‍य प्रॉब्‍लम्‍स को दूर करने में हेल्‍प करता है। Read More – सेब खाने के फायदे
बनाने की विधि – सेब का सिरका का रिन्‍स बनाने के लिए 2 कप पानी के साथ 3 बड़े चम्मच मिलाएं। मिक्स करें और अपने बालों पर लगाएं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*