हिचकियां आने पर घरेलू उपचार Hiccups Treatment Home Remedy in Hindi

Home Remedies for hiccups

हिचकियां आने पर घरेलू उपचार Hiccups Treatment Home Remedy in Hindi -Hichki ka ilaj

(Hiccups meaning in hindi – हिचकी);  (hichki in english – Hiccups)

आइये आज यह जानते हैं कि हिचकी क्यों आती है (hichki kyun aati hai in hindi)? श्वास नली में किसी प्रकार की रुकावट से कुछ खांसी की-सी स्थिति पैदा हो जाती है | सांस कुछ रुकती सी है और हिचकियां आने लगती हैं | कई बार अपच होने से भी हिचकियां आने लगती हैं | स्नायु विकृति, मिरगी, मस्तिष्क शोथ और हिस्टीरिया में भी हिचकियां आती हैं | गुर्दो में सूजन भी हिचकियां आने का कारण हो सकता है |

हिचकियां आने का कारण व लक्षण

हिचकियां आने का वास्तविक कारण है, आहार नलिका में आई रुकावट। वैसे हिचकियां आना नुकसानदायक नहीं है, किंतु यदि हिचकियां तेज आएं तथा रुकें नहीं तो इसमें रोगी की जान भी जा सकती है या बेहद चिंताजनक स्थिति उत्पन्न हो सकती है।

हिचकियां आने पर उपचार Hichki Ka ilaj – Rokne Ke Upay

हिचकी बंद करने के उपाय (hichki band karne ke upay in hindi) यहाँ पर दिए जा रहें जो आपके लिए उपयोगी होंगे –

1. अपच से हिचकियां आती हो तो एक गिलास पानी में खाने का चुटकीभर सोडा डालकर पीने से लाभ होता है (hichki rokne ke gharelu upay) |

2. जिस व्यक्ति को जोर की हिचकियां आ रही हों, उस समय उसका ध्यान किसी अन्य विषय पर लगा दिया जाए तो हिचकियां आनी एकाएक बन्द हो जाती हैं (hichki rokne ka tarika in hindi)|

3. पानी में नीबू का रस और शहद मिलाकर देने से भी हिचकियां बन्द होती हैं (hichki ko rokne ka tarika)|

4. गरम दूध पीने से भी हिचकियां रुकती हैं (garam doodh se hichki ko rokne ka tarika)|

5. छोटी इलायची चबाकर खाने से भी आराम आता है | चार-पांच छोटी इलायचियां कूटकर पानी में उबालें | पानी की मात्रा आधी रह जाने पर हल्का गरम रहते रोगी को पिलाने से लाभ होता है |

6. दोनों कानों में उंगलियां डालकर कान बन्द कर देने से नसों पर दबाव पड़ता है | इससे कई बार फौरन लाभ होता है |

7. प्याज काटकर-धोकर और नमक मिलाकर खाने से भी हिचकियों में आराम आता है |

8. मूली के दो-चार पते चबाने से भी हिचकियां बंद होती हैं () |

9. नीबूः एक चम्मच नीबू का रस व एक चम्मच शहद मिलाकर पीने से हिचकी बंद हो जाती है। इसमें स्वादानुसार काला नमक भी मिलाया जा सकता है।

10. गन्नाः गन्ने का रस पीने से हिचकियां पूर्णत: बंद हो जाती हैं।

11. अदरकः हिचकियों का प्रभावी उपचार करने के लिए ताजा अदरक के टुकड़ों को चूसना कारगर औषधि है। इससे तत्काल लाभ मिलता है।

12. ब्लैकबेरीः ब्लेकबेरी खाने से हिचकियां बंद हो जाती हैं।

13. शरीफाः हिचकी में शरीफे का सेवन भी लाभप्रद होता है।

14. ईमली: ईमली के पानी या ईमली को खाने से हिचकियां आना बंद हो जाती हैं। छिलकारहित इमली के एक ग्राम बीज चूसने से हिचकियां रुक जाती हैं।

15. जायफलः पानी के साथ जायफल को घिसकर पीने से हिचकी रुक जाती है।

16. उड़द या आम के पत्ते चिलम में रखकर पीने से हिचकी बंद हो जाती है |

17. तीन छटांक पानी में चार माशा राई उबालकर पिलावे इससे हिचकी बंद हो जाती है |

18. अनार का छिलका उबालकर पुराना गुंड मिलाकर पिने से हिचकी आनी तुरंत बंद हो जाएगी |

About Dr Kamal Sharma 17 Articles

Hello to my readers.
I am Ayurveda Doctor Practicing in Mumbai. Thanks

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*