जोड़ो में दर्द का घरेलू प्राकृतिक उपचार joint pain treatment in hindi

Jodo Ka Dard Ka Ilaj

Jodo Ka Dard Ka Ilaj जोड़ो में दर्द का उपचार Home Remedies For Joint Pain In Hindi

आजकल की जीवनशैली और खानपान के वजह से जोड़ो का दर्द एक आम समस्या हो गयी है. बहुत से लोग इससे परेशान हैं. कई प्रकार की दवाएं आपको विज्ञापन में मिल जायेंगी. लेकिन अधिकतर विज्ञापनों में सच्चाई नहीं होती है. काफी लोग ऑपरेशन के जरिए भी इसका इलाज कराते हैं. लेकिन यह हमेशा सफल नहीं होता है.

कुछ घरेलु नुस्खे अपनाकर आप जोड़ो के दर्द से छुटकारा पा सकते हैं.

जोड़ो में दर्द है तो “वात” बढ़ने न दें

आस्टियो – आर्थराइटिस जोड़ो में सीनोविअल द्रव सूख जाने के कारण होता है| आयुर्वेद के अनुसार यह सूखापन मुख्यतः वात दोष के बढ़ जाने के कारण होता है| वात, मस्तिष्क और शारीर के बीच संतुलन बनाये रखने के लिए जिम्मेदार है| शरीर में असंतुलन के कारण आवश्यकता से अधिक वात, जोड़ो के आस पास इकठ्ठा हो जाता है | इसी के कारण सूखापन पैदा होता है और आस्टियो-आर्थराइटिस होने का खतरा बढ़ जाता है | इसके लिए निश्चित अवधि के उपचार और जीवनशैली में बदलाव कि सलाह दी जाती है |

ऐसा करने से शरीर के प्रभावित हिस्से के ऊतकों को नई ताकत मिलती है | इसके लिए सबसे जरुरी है वात को शांत करना | इसके बाद पंचकर्म और उपचार कि ज़रूरत होती है | साथ ही आहार संबंधी परहेज भी ज़रूरी है |

आपको खाने में ताज़ी, पकी हुई सब्जियां, दालें और सूप आदि लेना चाहिए | यदि आप आस्टियो-आर्थराइटिस से पहले से ही ग्रस्त हैं, तो सप्ताह में कम से कम एक बार काले चने अपने भोजन में ज़रूर शामिल करें | आपके खाने में सेंधा नमक होना भी ज़रूरी है | दोष के अनुसार हल्क़े मसाले भी प्रयोग किये जा सकते हैं | भोजन में घी और तेल का होना भी ज़रूरी है, क्योंकि ये आप के जोड़ो को चिकनाहट प्रदान करते है | लेकिन इसकी मात्रा डॉक्टर के कहे अनुसार ही लें | ठंडी सूखी चीज़ों के साथ साथ तली हुई और बहोत अधिक चिकनी चीज़ें खाने से परहेज़ करें | कड़वे पदार्थों को भी अपने आप से दूर रखें |कुल मिला कर ताज़ा पका हुआ खाना ही लें |

खान पान के साथ पंचकर्म उपचार भी किया जाता है, जिसके ज़रिये विषैले पदार्थों को शरीर से बाहर निकला जाता है | इसमें औषधीय तेलों से मालिश और प्रभावित हिस्सों कि सिंकाई कि जाती है |

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*