योनि रोग के कारण व घरेलू उपचार Home Remedies For Vaginal Infection In Hindi

Home Remedies For Vaginal Infection In Hindi


महिलाओं में कई प्रकार की सेक्स सम्बन्धी समस्याएं पायी जाती है | इनमे कई ऐसी समस्याएँ होती हैं जिनका उपचार घरेलू औषधियों के अलावा नहीं होता है | घरेलू उपचार की ख़ास बात यह होती है की यह नुकसानदेह नहीं होता है |

इसी प्रकार महिलाओं के योनि से संबधित रोग हो जाते हैं जिनमें इन्फेक्शन होना आम है | हम यहां पर आपको इसके घरेलू उपचार के बारे में बताएँगे |

योनि रोग के कारण व लक्षण Yoni Rog Ke Karan Aur Lakshan

योनि रोग कई प्रकार के होते हैं, जैसे –

  • योनि का कठोर होना
  • योनि से दाहयुक्त रक्त बहना
  • मिश्रित रक्त बहना
  • योनि का अत्यधिक संकुचित होता
  • योनि में शूल या चींटी रेगने जैसी पीड़ा होना

ये योनि के प्रमुख रोग है।

वस्तुत: यह सभी रोग अत्यधिक व असंयमित मैथुन का दुष्परिणाम होते हैं, फिर भी ज्यादा परिश्रम, नींद न लेना, क्रोध की अधिकता या योनि में हुए घाव भी इन रोगों को जन्म देते हैं। लेकिन नियमित योनि की सफाई व संयमित मैथुन से इन रोगों से बचाव किया जा सकता है।

[ इसे भी जाने – अत्यधिक मासिक श्राव (Memorrhagia) के लक्षण एवं घरेलु उपचार]

योनि रोग का उपचार Home Remedies For Vaginal Infection Hindi Me

अब हम यहां आपको बताएँगे की योनि के रोगों को ठीक करने के लिए क्या घरेलू उपाय कारगर होते हैं | आइये इनके बारे में जानें –

1. जामुन का प्रयोग करें

इस उपाय से योनि के कई रोगों में राहत मिलती है | इसके लिए इलायची, धाय के फूल, मजीठ, जामुन, मोचरस, लाजवंती को कुट-पीसकर बारीक चूर्ण बना लें। इस चूर्ण को योनि में रखने से योनि की दुर्गध, योनि का गीला रहना व लिसलिसापन दूर हो जाता है।

2. आंवला का रस

योनि की जलन के लिए – ताजा आवलों का रस निकालकर शक्कर या मिश्री मिलाकर पियें | तीन दिनों तक इस उपचार को करने से योनि की जलन समाप्त हो जाती है।

योनि की खुजली के लिए – गिलोय, हरड, आंवला व जमालघोटा को मिलाकर काढ़ा बना लें। ठंडा होने पर इस काढ़े से योनि को धोएं। इससे योनि की खुजली मिट जाती है।

3. अरंडी के बीज हैं लाभकारी

अरंडी के बीजों को नीम के रस में पीसकर गोलियां बना लें। इन गोलियों को योनि में रखने अथवा इन्हें पानी के साथ पत्थर पर पीसकर योनि में लेप करने से योनिशूल दूर हो जाता है।

[ इसे भी जाने –कष्टकारी मासिक धर्म (माहवारी) का घरेलु इलाज (Dysmenorrhoea) ]

महिलाओं के लिए विशेष सलाह

अधिकांश महिलाएं योनि रोगों से घिरी होती हैं। यह बात अलग है कि मान-मर्यादा, संकोची स्वभाव व लाज-शर्म के कारण ऐसा बहुत कम होता है कि योनि रोगों के लिए महिलाएं चिकित्सकों का परामर्श लेती हैं।

योनि रोगों का प्रमुख कारण यह माना जाता है कि स्त्रियां योनि को अंदर से धोने का ख्याल नहीं रखतीं जबकि विशेषज्ञों की राय है कि प्रतिदिन स्नान करते समय योनि को पानी व साबुन से भीतर तक अच्छी तरह धोना चाहिए।

नित्य सफाई न होने से योनि के भीतरी भाग में मैल जमा हो जाता है जिससे दुर्गध आने लगती है, खुजली चलने लगती है, जलन होने लगती है, सफेद पानी की शिकायत होने लगती है।

इसके अलावा भी अन्य कई रोगों का मार्ग प्रशस्त हो जाता है। अत: योनि रोगों से बचने का सबसे उत्तम उपाय उसकी नियमित साफ-सफाई है।

योनि के ढीला होने कारण व लक्षण Yoni Ke Dhela Hone Ke Lakshan

ज्यदातर योनि के ढीलापन के निम्न कारण हैं –

  • अप्राकृतिक व असुविधापूर्ण आसनों में तेज गति से सहवास करने
  • अधिक मात्रा में सहवास करने
  • कृत्रिम साधनों से मैथुन करने
  • अति प्रसव करने (यानि जल्दी – जल्दी बच्चा पैदा होने से )
  • शारीरिक कमजोरी

इनके कारण कई स्त्रियों का योनिमार्ग ढीला तथा अत्यधिक विस्तीर्ण हो जाता है। जिससे सहवास करते समय सुख व आनंद की प्राप्ति नहीं होती हैं।

[ इसे भी जाने – ढीले लटके हुए स्‍तन को टाइट करने के घरेलू उपचार ]

योनि को टाइट करने के घरेलू उपचार Yoni Ko Tight Karne Ke Gharelu Nuskhe

योनि को टाइट करना कभी – कभी आसान नहीं होता है | लेकिन कुछ परिस्थितियों में इसको टाइट किया जा सकता है | इसके महिलायें निम्न उपाय अपना सकती हैं –

माजूफल का प्रयोग

माजूफल को योनि को टाइट करने वाली औषधि के रूप में जाना जाता है |

जाने कैसे प्रयोग करें –

  1. माजूफल का चूर्ण 30 ग्राम तथा फिटकरी व कपूर 3-3 ग्राम मात्रा में पीसकर तीनों को मिला लें।
  2. इस चूर्ण को एक महीन मखमल के साफ-सफेद कपड़े में रखकर छोटी-सी पोटली बनाकर मजबूत धागे से बांध दें।
  3. यहां ध्यान रखें कि पोटली से बंधा धागा लंबा रहे ताकि धागे को खींचकर पोटली बाहर खींची जा सके।
  4. रात को सोते समय इस पोटली को पानी में डुबोकर गीला कर लें एवं योनिमार्ग में अंदर तक सरका कर रख लें तथा सुबह निकाल कर फेंक दें।

यह प्रयोग कुछ दिनों तक करने से योनि तंग व सुदृढ़ हो जाएगी।

योनि को टाइट करने का दूसरा प्रयोग

  1. मैनफल, मुलहठी और माजूफल को अलग-अलग कृट-पीसकर 50-50 ग्राम वजन में लेकर मिला लें।
  2. अब इसमें 25 ग्राम कपूर पीसकर मिला लें।
  3. अमलतास वृक्ष की छाल लाकर घर में रखें। छाल का एक टुकड़ा मोटा-मोटा कृटकर गिलास भर पानी में डालकर रात को रख दें। सुबह स्नान के समय मसल-छानकर इस पानी को योनि के भीतर डालकर अच्छी तरह धोएं।
  4. इसके पश्चात उपरोक्त चूर्ण की एक चम्मच मात्रा में थोड़ा शहद मिलाकर मोटा गाढ़ा लेप बनाकर योनि के अंदर अच्छी तरह से मल दें।

यह प्रयोग कुछ दिनों तक करने से योनि पहले सी तंग व मजबूत हो जाएगी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*