हृदय संबंधी रोगों के घरेलू उपाय Home Remedies To Make Heart Strong In Hindi

Home Remedies To Make Heart Strong In Hindi. kamjor dil ka ilaj in hindi

हृदय से जुड़ी बीमारियां आजकल एक बड़ी समस्या बन कर उभर रही है | इसकी सबसे बड़ी वजह तनाव, भागदौड़ भरी जिंदगी, गलत खानपान, जरूरत से ज्यादा काम का बोझ आदि है | हृदय में दर्द, धड़कनों का तेज या कम होना, हृदय की धमनियों में विकृति आ जाना, जैसे विकार उत्पन्न होने लगते हैं | ऐसे में कुछ उपयोगी घरेलू नुस्खों का प्रयोग करके इन सबसे बचा जा सकता है | तो आईए जानते हैं कुछ ऐसे ही घरेलू नुस्खों के बारे में –

✔ यदि छाती के बायीं ओर दर्द उठता है और सांस लेने में कठिनाई महसूस होती है, पसीना आने लगता है, तो दूध में लहसुन पकाकर पिएं | कुछ दिनों तक लगातार इस दूध का सेवन करने से लाभ मिलता है |

✔ ह्रदय रोग और रक्तचाप रोग में यदि नियमित रूप से सुबह शाम लौकी की सब्जी का सूप पिएं या उसकी सब्जी भोजन के साथ सेवन करें, तो एक महीने में ही लाभ होने लगेगा |

✔ हृदय में दर्द होने या दौरा पड़ने पर 2 चम्मच शुद्ध घी में आधा चम्मच (Teaspoon) बेल का रस मिलाकर पिएं | गाय का घी हो तो अच्छा है | इसे पीने से तुरंत राहत मिलेगी |

✔ हींग को भूनकर उसका चूर्ण बना लें | फिर काला व सफेद जीरा, अजवाइन और सेंधा नमक – सभी बराबर मात्रा में लेकर चूर्ण बनाएं और हींग के चूर्ण को इसमें मिलाकर किसी बोतल में भरकर रख दें | फिर रोजाना एक टीस्पून इस चूर्ण का सेवन करें तो कुछ दिनों में ही हृदय का दर्द दूर हो जाएगा |

✔ 100 ml अदरक के रस में थोड़ा सा शहद मिलाकर चाटने से ह्रदय के दर्द में आराम मिलता है |

✔ 10 ml अनार के रस में 10 ग्राम पिसी मिश्री डालकर रोजाना सुबह पीने से हृदय की जकड़न और हृदय का दर्द दूर हो जाता है |

✔ हृदय की धड़कन तेज हो तो एक टेबल स्पून अनार के ताजे पत्ते को एक कप पानी में पीसकर और फिर उसे छानकर सुबह शाम पीने से हृदय मजबूत बनता है और हृदय की धड़कन सामान्य होती है |

✔ 200 ml ताजी गाजर के रस में 100 ml पालक का रस मिलाकर रोज सुबह पिएं, तो हृदय से सम्बंधित समस्यायें जैसे दिल का दौरा और दिल का बेकाबू होकर धड़कना सब नियंत्रण में आ जाता है |

✔ ह्रदय रोगी यदि खूब मथकर मक्खन निकाला हुआ एक गिलास छाछ रोज पिएं तो हृदय की रक्त वाहिनियों में बढ़ी हुई चर्बी कम हो जाती है और दिल की तेज धड़कन व घबराहट भी दूर हो जाती है |

✔ यदि दिल घबराता है, धड़कन तेज हो गई है, पसीना आ रहा है, तो आलूबुखारा खाइए या मीठा अनार चूसिये, इससे आराम मिलेगा |

✔ पका हुआ कद्दू लेकर उसे धो लें और छिलके सहित उसके छोटे-छोटे टुकड़े काट लें | इसे अच्छी तरह सुखा कर मिट्टी के बर्तन में भरकर, बर्तन के मुख पर ढक्कन लगाकर, ऊपर से कपड़ा रख कर मिट्टी का लेप लगा दें | इस बर्तन को लगभग 20 मिनट तक धीमी आंच पर रखकर गरम करें | फिर उसे उतार कर ठंडा होने पर खोलें | अब कद्दू के टुकड़ों को कूटकर चूर्ण बनाएं और एयरटाइट बोतल में भरकर रख दें | आधा टीस्पून चूर्ण में एक-चौथाई टीस्पून सोंठ का चूर्ण मिलाकर गर्म पानी के साथ सेवन करें | इससे सभी तरह के हृदय दर्द से राहत मिलेगी |

✔ लौकी उबालकर उसमें नमक, धनिया, जीरा, हल्दी व हरा धनिया डालकर कुछ देर पकाएं | हृदय रोगी को इसका नियमित सेवन कराने से हृदय की कार्य शक्ति बढ़ती है और हृदय मजबूत बनता है |

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*