खीरा ककड़ी खाने के फायदे Kheera kakdi ke fayde in hindi

kheera kakdi khane ke fayde hindi

पूरे विश्व में उगाई जाने वाली सब्जियों में चौथे स्थान पर आने वाला खीरा सर्वोत्तम आहार माना जाता है. सलाद के तौर पर प्रयोग किए जाने वाले खीरे के कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं. अगर आप खुद को निरोग और स्वस्थ रखना चाहते हैं तो अपने आहार में खीरे को शामिल करें (Khira Khane ke hai Bahut se Labh).

खीरे के बिना घर पर बना कोई भी सलाद अधूरा होता है. सलाद का स्वाद बढ़ाने के साथ ही खीरे में कई ऐसे गुण हैं जो आपकी सेहत के लिए लाभकारी होते हैं. आयुर्वेद के अनुसार खीरा स्वादिष्ट, शीतल, प्यास, दाहपित्त तथा रक्तपित्त दूर करने वाला रक्त विकार नाशक है. खीरा पानी का भी श्रेष्ठ स्त्रोत होता है. इसमें 95% पानी होता है. शरीर को शीतलता और ताजगी प्रदान करने के लिए खीरे का सेवन किया जा सकता है. इसमें विटामिन ए, बी, बी1, सी और डी मौजूद होते हैं. इसके अतिरिक्त यह पोटेशियम, फॉस्फोरस और आयरन में भी भरपूर होता है. यह स्वास्थ्यवर्धक होने के साथ-साथ सौंदर्य वर्धक भी होता है(Khira Humari Pachan sakti ko badata hai).

kheera khane ke fayde hindi me

वर्षा ऋतु में मौसम की उमस और गर्मी से बचने के लिए लोग प्रायः कोल्ड ड्रिंक व अन्य ठंडी चीजों का सेवन करते हैं | पर इससे सिर्फ कुछ देर के लिए ही ठंडक मिलती है. बारिश में उमस के कारण अपने शरीर को ठंडा रखने के लिए अपने आहार में खीरे को शामिल करना चाहिए. नियमित रूप से खीरा खाना एसिडिटी, छाती की जलन आदि में लाभप्रद होता है. रोज खीरे का जूस पीना शरीर को मजबूती प्रदान करता है. कम फैट और कैलोरी वाले खीरे का सेवन आपको कई बीमारियों से बचाने में सहायक है.

खीरा हमारे शरीर में पानी की कमी दूर करता है Khira humare sharir me Pani ki kami ko door karta hai  

95% पानी होने के कारण खीरा शरीर में पानी की पूर्ति करता है. यह शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने का कार्य करता है. इसके साथ ही यह शरीर को ठंडक देने का भी काम करता है. यह किडनी के स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा होता है(Khira Sharir me Pani ki Kami ko pura karta hai).

खीरा हमारी आंखों के लिए लाभकारी होता है Khira Humari Aankhon ke Liye hai Labhkaari  

खीरे में एस्कॉरबिक एसिड और कैफीक एसिड पाया जाता है. कुछ देर खीरे के स्लाइस आंखों पर रखने से आंखों के नीचे की सूजन दूर होती है. इससे आंखों को ठंडक भी मिलती है(Khira Ankho ke Liye hai Labhdayak).

खीरा त्वचा की देखभाल करता है Khira Twacha ki Dekhbhal karta hai 

 

  • खीरे के जूस में समान मात्रा में गाजर व पालक का रस मिलाएं. इसे चेहरे पर लगाकर स्वतः ही सूखने दे. यह त्वचा को सनबर्न से बचाता है. इसके अतिरिक्त खीरे के रस में नींबू मिलाकर चेहरे पर लगाने से निखार आता है. यह त्वचा के लिए नैचुरल मॉइस्चराइजर का काम करता है. इससे त्वचा की नमी लौट आती है(Khira Skin me Nikhaar Lata hai).
  • आधे कटे हुए खीरे में 25 ग्राम धनिए की ताजी पत्तियां मिलाकर पेस्ट बना लें. इसमें 1 चम्मच नींबू का रस और 2 चम्मच चावल का आटा मिला दे. इन सब को घोल कर फेसपैक बना ले. इससे अपने चेहरे पर लगाकर10 मिनट रहने दे और फिर धो लें इससे दाग धब्बे दूर होते हैं.

खीरा बालों के लिए है असरदार  Khira Balo ke Liye hai Asardar 

खीरे में मौजूद सिलिकन और सल्फर बालों को बढ़ाने में मदद करते हैं. एक खीरे को पीस कर उसमें 1 अंडा और 4 चम्मच जैतून का तेल मिलाकर रुई की सहायता से अपने सिर और बालों में लगाएं. 10 मिनट बाद हर्बल शैंपू से बाल धो लें. नियमित ऐसा करने से बाल घने और चमकदार बनते हैं.

खीरा मासिक धर्म में होता है फायदेमंद Khira Masik Dharma me Hota hai Faydemand 

खीरे के नियमित सेवन से मासिक धर्म के दौरान होने वाली परेशानियों से राहत मिलती है. इसके लिए दही में खीरे को पीसकर पुदीना, काला नमक, जीरा और हींग डालकर अच्छे से मिला ले. इसका सेवन करने से आराम मिलता है.

खीरा खाने के अन्य फायदे इस प्रकार है Khira Khane ke Anya Fayde ish Prakar hai 

खीरा पाचन सुधारता है Khira Pachan ko Sudharta hai   खीरे में 95% पानी और 5% फाइबर पाया जाता है. इसके सेवन से कब्ज, एसिडिटी, सीने में जलन या अन्य पेट संबंधी समस्याओं से राहत मिलती है. 100 मिली. खीरे के रस में 50 मिली. पायेनपल का रस मिलाकर रोजाना दिन में एक बार पिए. इससे एसिडिटी और पेट की गैस से राहत मिलती है. इसमें इस्पेरिन नामक एंजाइम होता है जो पाचन क्रिया को दुरुस्त रखता है(Khira Bhiojan Pachane me Help Karta hai). Read More – मोटापा कम करना हुआ अब बहुत आसान

वजन घटाने में मदद करता है Vajan Ghatane me me Help karta hai खीरे में फैट और कैलोरी की मात्रा कम होती है. दिन में या रात को भोजन के बाद भूख लगने पर खीरा खाने से भूख भी मिट जाती है और इससे वजन भी कम होता है. रोज खीरा खाने से 1 सप्ताह में 2 किलो तक वजन घट सकता है. इसमें प्रचुर मात्रा में फाइबर होता है जो वजन कम करने में सहायक होता है.

उच्च रक्तचाप को संतुलित रखता है Blood Pressure ko Santulit Rakhta hai खीरे में प्रचुर मात्रा में फाइबर, पोटेशियम और फाइबर पाए जाते हैं. 100 मिली. खीरे के रस में 50 मिली. चुकंदर का रस, 75 मिली. गाजर का रस और 1 चम्मच नींबू का रस अच्छी तरह मिला लें. दिन में 2 बार इसे पीने से रक्तचाप सामान्य रहता है. Read More – उच्च रक्तचाप का घरेलू इलाज Desi Nuskhe For High Blood Pressure Hi

मूत्र संबंधी विकार को दूर करता है Mutr Sambandhi Vikar ko Door karta hai मूत्र संबंधी विकारों के इलाज के लिए आयुर्वेद में खीरे को अमृत माना गया है. 100 मिली. खीरे के रस में एक चौथाई चम्मच धनिए का पाउडर मिला ले. रोजाना दिन में एक बार इसे पीने से पेशाब की कमी दूर होती है. Read More – महिलाओं में बहुमूत्र रोग का घरेलू इलाज

खीरा मुंह की दुर्गंध को दूर करता है Khira Muh ki Durgand ko Door karta hai आयुर्वेद के अनुसार पेट में गर्मी होने के कारण मुंह से बदबू आती हैं. खीरे के सेवन से पेट को शीतलता मिलती है. कुछ मिनटों के लिए मुंह में खीरे का टुकड़ा रखने से दुर्गंध के जीवाणु नष्ट हो जाते हैं.

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है Rog Pratirodhak Khsamta ko Badata hai खीरे का रोज सेवन करने से रोग प्रतिरोधक प्रणाली मजबूत होती है. खीरे के रस में अजवाइन मिलाकर पीने से शरीर का तापमान सामान्य रहता है. यह सर्दी जुकाम होने से भी बचाता है.

नाखूनों को रोग मुक्त रखता है Nakhuno Ko Rog Mukt rakhta hai अगर आपके नाखून कमजोर है, बार-बार टूटते हैं तो आपको खीरे का सेवन करना चाहिए. इससे नाखून मजबूत होते हैं और उनका रंग भी सफेद होता है.

कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने नहीं देता है Cholesterol ko Badne Nahi Deta hai खीरे में स्टीरॉल नामक तत्व पाया जाता है. यह शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित रखता है. इससे हृदयाघात का खतरा भी काम होता है. Read More – आइए जानते हैं क्या है फर्क बुरे और अच्छे कोलेस्ट्रॉल में,

मधुमेह में है फयदेमंद Madhumay me hai Faydemand खीरे में मौजूद तत्व शरीर में इंसुलिन का स्तर नियंत्रित करते हैं. नियमित रूप से खीरे का सेवन करने से रक्त में शर्करा का स्तर कम होता है. यह मधुमेह रोगियों के लिए लाभदायक होता है. Read More – मधुमेह कारण एवं निवारण

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*