नीबू के द्वारा स्वास्थ्य Benefits of Lemon For Health in Hindi

lemon benefits in hindi

 नींबू विटामिन सी से भरपूर होता है और यह पूरे भारत में पाया जाता है. यह खट्टा फल होते हुए भी इसकी खटाई नुकसान नहीं करती है. इसका सबसे बड़ा गुण यह है कि यह पेट के कीड़ों को नष्ट करता है. नींबू पेट और मलाशय आदि को साफ करता है. कब्ज, उदर रोग, चर्म रोग, मोटापा, मलेरिया आदि रोगों को ठीक करता है.

नीबू के फायदों में शामिल है – गले के इन्फेक्शन का इलाज, अपच, कब्ज, दांत के समस्याएं, बुखार, जलना, मोटापा, सांस की बीमारियाँ, कालरा, उच्च रक्तचाप आदि. इन फायदों के साथ –साथ यह आपकी स्किन और बालों के लिए भी बहुत उपयोगी है. यह हमें बहुत पहले से पता है कि नीबू शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, पेट को साफ़ करता है और खून भी साफ़ करता है.

नीबू के रस में बहुत सारे स्वास्थ्य सम्बन्धी तत्व पाए जाते हैं. यह किडनी स्टोन के इलाज के लिए भी जाना जाता है साथ ही स्ट्रोक को कम करने और बॉडी के टेम्परेचर को भी कम करता है.

इसका जूस पीने से आपका शरीर शांत और ठण्डा बना रहता है.

नीबू के ये सारे फायदे इसमें मौजूद तत्वों  – जैसे बिटामिन – C, बिटामिन – B6, बिटामिन –A, बिटामिन – E, नियासिन, थियामिन, राइबोफ्लेविन, कॉपर, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, पोटैशियम, जिंक, फ़ास्फ़रोस, प्रोटीन की वजह से होती हैं. यह एक ऐसा फल है जिसमें Flavnoid पाया जाता है जिसमें एंटीऑक्सीडेंट और कैंसर से लड़ने वाले तत्व पाए जाते हैं. यह डायबिटीज, अपच, उच्च रक्तचाप, कब्ज जैसे रोगों से लड़ने में हेल्प करता है.

लोग इसे पानी में मिलाकर पीते हैं. इसे सफाई और एंटीबैक्टीरियल के लिए भी प्रयोग में लाया जाता है. इसके खुशबू से मच्छर भी भाग जाते है. जबकि नीबू के जूस को ओलिव आयल के साथ पीने से gall bladder के स्टोन से मुक्ति पाई जा सकती है .

नींबू को कई घरेलू औषधियों में प्रयोग किया जाता है और इससे कई लोग घर पर ही ठीक हो जाते हैं इसलिए आज हम आपको यहां पर कुछ ऐसे ही लोगों के बारे में बताएंगे जिनको नींबू या किसी और चीज के साथ नींबू को मिलाकर ठीक किया जा सकता है.

नीबू के द्वारा स्वास्थ्य –

1) अपच और कब्ज से राहत

नीबू का जूस अपच और कब्ज से राहत से राहत दिलाता है. आप अपने खाने में आधा नीबू निचोड़ें (ध्यान रहे दूध के साथ ऐसा न करें), इससे अपच की समस्या ठीक होगी. यह खून को साफ़ करता है, इसलिए नीबू का जूस खाने के बाद एक अच्छा ड्रिंक है. इसे कई जगहों पर लाइम सोडा भी कहते हैं. इसे बनाने के लिए नीबू का जूस लें, और इसके साथ ठंडा पानी, सोडा, नमक, और चीनी या शहद मिलाएं. आप चाहें तो पुदीने की कुछ पत्तियां भी दडाल सकते हैं. आप इसे तब जरूर पियें जब आपका खाना अधिक हो गया गया है या खाने के बाद पेट फूल रहा है.

2) पेट की बीमारी में

एक नीबू के रस में एक चम्मच चीनी अच्छी प्रकार मिलाकर पीने से अपच से उत्पन्न पतले दस्त ठीक हो जाते है, अग्नि को बढ़ाकर भूख बढ़ाता है और बिगड़ी हुई वायु को ठीक करता है | लेकिन इस दवा के पीने के बाद पानी न पिये तथा पतली खिचड़ी खाएँ या हल्का भोजन ले|

3) पेट का दर्द (उदर शूल)

एक नीबू के रस में काला नमक और अजवाइन पीसकर मिला कर पीने से पेट का दर्द या भूख के रोग दो – तीन बार के सेवन से ठीक हो जाते है | | लेकिन इस दवा के पीने के बाद हल्का भोजन ले|

4) कान के दर्द या मैल होने पर

नीबू का रस कान में भर दे और थोड़ी कौड़ी भस्म डाल दे | यह पांच मिनट में उबाल कर कान का मैल साफ़ कर देगा और कान का दर्द ठीक कर देगा | उसके बाद दवा को गिराकर रूई के फाहे से कान को अच्छी तरह साफ़ कर ले और सरसों का तेल कान में डाल दें |

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*