मोटापा कम करना हुआ अब बहुत आसान Motapa Jaldi Kam Kare

motapa kam karne ke upay मोटापा कैसे कम करें

कई मोटे मरीज मेरे पास आते हैं, जिन्होंने अपने मोटापे की वजह से खाना कम कर दिया है या सिर्फ एक समय ही खाना खाते हैं या जो डाइटिंग पर है लेकिन फिर भी उन का मोटापा कम होने की जगह बढ़ता ही जाता है. ऐसे लोगों में से कहीं आप भी तो नहीं? अगर हां तो यह आर्टिकल शायद आप के काम आए.

इस विषय पर चर्चा करने से पहले कुछ बातें अपने शरीर के बारे में हम कर ले.

हमारा शरीर एक बड़े यंत्र यह मशीन की तरह है. वह मशीन जो लगातार बिना रुके 24 घंटे सातों दिन काम करती रहती है. अब आप कहेंगे कि हम लगातार काम कहां करते हैं. रात को सोते भी है, दिन में झपकी भी लेते हैं, फिर लगातार काम कहां हुआ?

सोते आप हैं. आपका हृदय, Lungs, आपका Digestive system, आपका Blood circulatory system. ये सारे system अपना कार्य करते रहते हैं. जब आप गहरी नींद में होते हैं तब भी दिल का धड़कना, खून का सारे शरीर में घूमना, सांस का आना जाना, खाने का पचना इत्यादि काम होते रहते हैं, जिनकी बदौलत आप स्वस्थ और जिंदा रहते हैं.

किसी भी मशीन या गाड़ी को चलने के लिए ऊर्जा (Energy) की आवश्यकता होती है, जो शरीर को चलाने में काम आती है. जो Energy आपके खाने से बनती है, उसमें से कुछ तो तुरंत काम आ जाती है और कुछ भविष्य के लिए संगृहीत हो जाती है. जिस प्रकार बैंक में Current Account और  Saving Account होते हैं. शरीर की ये जो Saving Energy है ये चर्बी के रुप में आपके शरीर में जमा होती है.

आपने पढ़ा या देखा होगा कि कुछ लोग रेगिस्तानी या जंगल में कई दिनों तक फंस जाते हैं, भटक जाते हैं. उनके पास कुछ भी खाने पीने को नहीं होता है. फिर भी वे लोग कुछ दिनों तक अपने आप को बिना कुछ खाए हुए भी जिंदा रख पाते हैं. ऐसे आपातकाल के लिए शरीर Fat के रूप में Energy को save रखता है. जो लोग नियम से सुबह शाम खाना खाते हैं, उनको Energy के आमद खर्च का Balance बना रहता है और शरीर सहज रुप से उस Energy को खर्च कर देता है.

gharelu nuskhe for weight loss

मोटापा तब शुरू होता है जब आप मोटापे के चक्कर में एक समय का खाना बंद कर देते हैं या खाना कम कर देते हैं या Dieting करने लग जाते हैं. इससे होता यह है कि Energy के आमद खर्च का जो System था वो गड़बड़ड़ा जाता है. आप चाहे खाना खाए या ना खाए आपके शरीर को तो Energy चाहिए ही. जब आपके शरीर को ये लगने लगता है कि ये आदमी तो मुझे समय से ऊर्जा नहीं दे रहा है. जितनी जरूरत है, उतनी नहीं दे रहा है और जब चाहिए तब नहीं दे रहा है. तब शरीर का आपात तंत्र सक्रिय हो जाता है.

आपने देखा होगा कि बाजार में किसी चीज की कमी होने पर हर आदमी उसे जरूरत से ज्यादा खरीद कर अपने घर में इकट्ठा कर लेता है ताकि उसकी उपलब्धता बनी रहे उसे वह चीज समय से मिलती रहे. उसी तरह जब आप शरीर को सही समय पर और पूरा खाना नहीं देते हैं तो वह भी आपातकाल की तरह Energy को reserve कर लेता है. ऊर्जा को शरीर में Storage कर लेता है और ये Storage Fat के रुप में आपके शरीर में जमा होता है. फिर होता है यह है कि आप जितना कम खाते हैं, उतना ही Fat (मोटापा) बढ़ने लगता है. आप समझ ही नहीं पाते की कम खाते हुए भी मोटापा क्यों बढ़ रहा है. जब अपने शरीर का Current account कम कर दिया है या Saving Account तो बढ़ाएगा.

दूसरी बात जब आप एक ही समय खाना खाते हैं तो जाहिर है भूख से थोड़ा ज्यादा ही खाने में आता है क्योंकि पेट को पता है कि शाम को तो खाना मिलेगा नहीं, इसलिए वह आपको 2 चपाती ज्यादा ही खिला देता है. फिर धीरे धीरे आपके शरीर में Fat जमा होने लगती है. मानव शरीर की रचना पांच तत्वों से होती है. पृथ्वी, अग्नि, जल, आकाश और वायु. इन पांच तत्वों से निर्मित मानव शरीर को जीवित रहने के लिए और ऊर्जा प्राप्त करने के लिए व्यायाम करना लाभदायक होता है.

इस मशीनी युग में जहां हमें पहले की अपेक्षा बहुत कम शारीरिक श्रम करना पड़ता है बहुत से लोग मोटापे का शिकार होते जा रहे हैं. इस दुनिया में जितने लोग खाने की कमी से नहीं मरते उससे कहीं ज्यादा खाने की वजह से मर जाते हैं.

हर इंसान को अपने जीवन में दिन में से 1 घंटा अपने शरीर की ओर ध्यान लगाने के लिए अवश्य निकालना चाहिए. मोटापा सिर्फ अपने आप में एक समस्या नहीं है बल्कि इसका रिश्ता और बहुत सी गंभीर बीमारियो जैसे-

  • डायबिटीज (टाइप-2)
  • हाई ब्लड प्रेशर
  • दिल की बीमारियां और स्ट्रोक
  • कुछ खास प्रकार के कैंसर
  • अनिद्रा की बीमारी
  • किडनी की बीमारी
  • फैटी लीवर
  • जोड़ों की बीमारी

वजन कम करने के घरेलू उपाय vajan kam karne ke gharelu upay

  • एक गिलास थोड़ा गर्म पानी लेकर उसमें एक चम्मच काली मिर्च पाउडर और चार चम्मच नींबू पानी तथा एक चम्मच शहद मिलाकर हर रोज सुबह पीने से वजन कम होता है.
  • सुबह खाली पेट गर्म पानी में नींबू निचोड़कर उसमें एक चम्मच शहद मिलाकर रोज पिए तो भी वजन कम होता है.
  • रात का खाना सोने से 3-4 घंटे पहले लेना चाहिए.
  • खाना हो सके तो थोड़ा गर्म करके ही खाना चाहिए. गर्म किया हुआ खाना ठंडे खाने के मुताबिक ज्यादा जल्दी पचता है.
  • हर मौसम पर आने वाले फल का सेवन करें.
  • तले हुए खाने से ज्यादा भुने हुए व्यंजन का आहार चुने.
  • खाना खाने के तुरंत बाद कभी न सोए.

motapa kam karne ki dawa in hindi - ghatane ke gharelu nuskhe

वजन घटाने के लिए खानपान एवं व्यायाम vajan ghatane ke liye Diet  & exercise

  • वजन घटाने के लिए सुबह उठकर कुछ भी खाए बिना शुद्ध पानी पीना लाभदायी होता है.
  • बिना कुछ खाए पानी पीना कसरत करने और चलने से शरीर की नसों को ऊर्जा प्राप्त होती है.
  • ग्रीन टी और नींबू पानी भी वजन घटाने के लिए काफी उपयोगी है.
  • वजन नियंत्रित करने के लिए ताजा सब्जियों, फल और बीन्स का आहार उत्तम रहता है. जैसे ककड़ी, खीरा, मूली, चना, मूंग, मटर, पपीता, गाजर और हर प्रकार की दाल खाना फायदेमंद होता है.
  • स्वदेशी मसाले जैसे कि हींग, अजवायन, काली मिर्च, लौंग और कड़ी पत्ता, जैसे देसी मसाले अगर खाने में सही मात्रा में डाले जाते रहे तो पाचन तंत्र को खाना हजम करने में मदद मिलती है और पेट साफ रहने के कारण शरीर में फैट नहीं जमता.
  • प्रतिदिन थोड़े मात्रा में ड्राई फ्रूट्स, बादाम, काजू, पिस्ता, किशमिश, अंजीर खाने से प्रोटीन, विटामिन मिलते हैं और पाचन तंत्र भी अच्छा रहता है.
  • खाने के बाद तुरंत पानी पीना तेजी से वजन बढ़ाता है.
  • शक्कर वाले शरबत, मीठे पकवान, संचय किया हुआ खाना, कोल्ड ड्रिंक्स, ब्रैड पाव और बीयर वजन बढ़ाते हैं.
  • तला हुआ खाना, देसी घी, आलू, मैदा युक्त व्यंजन, चावल, चीनी, वगैरा चर्बी बढ़ाने में सबसे अहम भूमिका निभाते हैं.
  • खाने के समय बातें करना, टी.वी. देखना काफी नुकसानदेय है. इस तरह खाने से आदमी अपनी भूख से अधिक खा लेता है और उसे पता भी नहीं चलता.

वजन घटाने के लिए व्यायाम Motapa kam karne ke liye exercise

तंदुरुस्त जीवन का मूल मंत्र व्यायाम है. व्यायाम बीमारियों को मानव शरीर से दूर रखता है. स्फूर्ति प्रदान करता है और शक्ति बढ़ाता है.

  • Daily life में लिफ्ट की जगह सीढ़ियों का उपयोग करना चाहिए.
  • प्रतिदिन एक से तीन किलोमीटर तक पैदल चलना चाहिए.
  • जितना जल्दी हो सके, सो जाना चाहिए और सूर्यदय होने से पूर्व उठ जाना शरीर के लिए उत्तम होता है.
  • टी.वी. देखने और वीडियो गेम्स खेलने की बजाय बाहर मैदान में जाकर भागकर खेले जाने वाले खेल खेलना कैलोरी बर्न करता है.
  • हल्के सूर्य की रोशनी में चलने से पसीना जल्दी आता है और पसीना आने से कैलोरी जल्दी बर्न होती है.
  • नींद अगर पूरी ना हो पाए तब भी वजन बढ़ सकता है. अनिद्रा के कारण शरीर वजन बढ़ाने वाले हार्मोन त्याग करता है इसलिए रात को पर्याप्त नींद लेना आवश्यक है.
  • मानसिक तनाव भी मोटापा बढ़ा सकता है. मानसिक तनाव होने पर कई लोग लोग रोते हैं. कई लोग कसरत करने लगते हैं. कई लोग ज्यादा खाने लग जाते हैं. दोपहर की नींद भी वजन में बढ़ोतरी करती है.
  • वजन कम करने के इरादे से कई लोग डाइट प्लान बनाकर उसका पालन करते हैं और साथ में कसरत कर के अच्छे परिणाम प्राप्त कर लेते हैं. परंतु एक बार वजन घटाने के बाद अपनी पुरानी लापरवाही की ओर लौट जाते हैं और दुगनी तेजी से अपना वजन बढ़ा लेते हैं. इसलिए एक बार वजन नियंत्रण में आ जाने के बाद अनुशासन काफी आवश्यक है.

वजन घटाते वक्त इन बातों पर भी ध्यान दें :-

आधुनिक समय में परिश्रम और अनुशासन के बिना वजन कम करने के लिए विज्ञापन देने वाली कंपनियों की भरमार है. बहुत सारे लोग तुरंत परिणाम पाने के लिए ऐसा आसान रास्ता चुनते हैं और अपनी मेहनत की कमाई को गंवाते हैं. तुरंत वजन कम करने वाली दवाइयों से कई साइड इफैक्ट्स भी होते हैं और कई बार इनसे गंभीर बीमारियां भी हो सकती है. कृपया अपने शरीर की मर्यादाएं जानकर और विशेषज्ञ की सलाह के अनुसार ही वजन कम करने की दिशा में अपना कदम बढ़ाए.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*