नीबू के द्वारा स्वास्थ्य – पेट की बीमारी में – एक नीबू के रस में एक चम्मच चीनी अच्छी प्रकार मिलाकर पीने से अपच से उत्पन्न पतले दस्त ठीक हो जाते है, अग्नि को बढ़ाकर भूख बढ़ाता है और बिगड़ी हुई वायु को ठीक करता है | लेकिन इस दवा के पीने के बाद पानी Read More →

आजकल मोटापा एक बहुत बड़ी समस्या बन गयी है जिससे कई दूसरी बीमारियाँ पैदा हो जाती हैं | जैसे कि जोडों में दर्द, घुटनों में दर्द के कारण न चल पाना, हाई एवं लो ब्लडप्रेशर, डायबिटीज, आखों का कमजोर होना, अनिद्रा और कई अन्य भयावह बीमारियाँ | कई लोगों में मोटापा एक आनुवांशिक बीमारी होती Read More →

हिचकी का कारण (विकिपीडिया से) हमें अधिक मिर्च मसालेदार व्यंजन खाने के बाद अथवा हडबडी मे खाना खाने के बाद अचानक ही हिचकी आने लगती है. सामान्य रूप से यह जाना जाता है कि हिचकी आने के पीछे के मूल वजह खुराक के कणो का श्वसन नलिका मे फँस जाना होता है | परंतु हिचकी Read More →

पशुओं के कीड़े दूर करना इलाज लाल घोंघची का छिलका उतार कर उसके अन्दर का हिस्सा जानवर को आटे में मिलाकर खिलाने से घाव के कीड़े झड़ (मर) जाते है | हल्दी बारीक पीसकर घाव में भरने से कीड़े मर जाते है और घाव भर जाता है | फिनायल को रुई के फाहे में लगाकर Read More →

बुखार की दवा – यदि बुखार कफ से हो और जाड़ा देकर आता हो तो आक की कली गुड़ में रखकर खिलायें | दो-तीन बार खिलाने से बुखार ठीक हो जायेगा |  पुराने बुखार की दवा एक तोला चने की भूसी रात को मिट्टी के कोरे बर्तन में भिगो दें और उसे ओस में रख Read More →

बेहोश आदमी को गोबर में दबाने से होश आ जाता है और जहर उतर जाता है | हुक्के के नाल की कीट पानी में घोलकर पिलाने से अथवा गुड़ के साथ मिलाकर गोली बनाकर खिलाने अथवा पुराने हुक्के का पानी पिलाने और घाव पर लगाने से साँप का असर जाता रहता है | नौसादर और Read More →

रोग की पहचान – रस रोग में टांग में बहुत दर्द होता है |  इलाज – पूरन, जान और एलावा, एक-एक तोला कूट छान कर चने के बराबर गोलियाँ बना लें और सुबह शाम एक एक गोली खिलावें | इसकी सात आठ गोली खिलाने पर दर्द जाता रहेगा | धनेश का तेल मालिश करना इस दर्द Read More →

नीचे स्वास्थ्य रक्षा के कुछ नियम दिये गए है जिनका हमें अपने जीवन में नित्य पालन करते रहना चाहिये क्योकि तंदुरस्ती हजार नियामत है | जान है तो जहान है | अत: इन नियमो को अपने जीवन में लाने का पूर्ण अभ्यास करें ताकि स्वास्थ्य ठीक रहे और आप अपने देश और समाज के लिए Read More →

 नखसी अथवा जदवार – यह एक पहाड़ी पेड़ की गाँठदार जड़ होती है | नारियल ( खोपरा ) – एक वृक्ष का फल है जिससे गरी निकलती है | नारियल दरियाई – यह एक वृक्ष का फल है जो टापू में पैदा होता है और हाथी दांत की तरह सफेद होता है | बचनाग – Read More →

रोग का कारण – निमोनिया रोग, फेफड़े में ‘बैक्टीरिया’ का संक्रमण फैलने के कारण होता है। इस रोग में श्वास नली में संक्रमण हो जाता है और इसके साथ – साथ उसमें सूजन भी आ जाती है। जिसके कारण फेफड़ा अधिक मात्रा में तरल पैदा कर सकता है जो श्वास नली में आकर इकट्ठा हो जाता Read More →